भ्रष्टाचार का आरोप दूसरे के ऊपर लगाकर बाद में स्थानीय विधायक करते हैं सौदेबाजी : विनय सिंह

भ्रष्टाचार का आरोप दूसरे के ऊपर लगाकर बाद में स्थानीय विधायक करते हैं सौदेबाजी : विनय सिंह

धरना प्रदर्शन और गीदड़ भभकी से हम डरने वाले नहीं सांसद जी की इमानदारी विधायक के लिए बन रही है बाधा मेले की जमीन बताकर दोआबा की जनता को किया जा रहा है गुमराह बैरिया बलिया / दोआबा की जनता को विधायक द्वारा गुमराह करने और बैरिया विधायक की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए विनय

धरना प्रदर्शन और गीदड़ भभकी से हम डरने वाले नहीं

सांसद जी की इमानदारी विधायक के लिए बन रही है बाधा

मेले की जमीन बताकर दोआबा की जनता को किया जा रहा है गुमराह

बैरिया बलिया / दोआबा की जनता को विधायक द्वारा गुमराह करने और बैरिया विधायक की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए विनय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर खोला मोर्चा. विनय सिंह ने बताया कि विधायक एक जिम्मेदार व्यक्ति के साथ जनप्रतिनिधि है उनके द्वारा बिना सही तथ्यों की जांच किए जनता या प्रेस के सामने कोई भी बयान देना उनके दुर्भावना को प्रकट करता है उनके दिए हुए बयान हमें हमारे परिवार तथा निकट संबंधियों को मानसिक आघात पहुंचा चुका है

इसके साथ हम सभी के सामाजिक प्रतिष्ठा पर आघात पहुंचाया जा रहा है इस संबंध में हमने अपने लीगल एडवाइजर से कानूनी राय लिया है. बैरिया विधायक ने जो हमारे ऊपर आरोप लगाया है उसके खिलाफ मानहानि का केस कर रहा हूं जिसकी नोटिस हमारे वकील के माध्यम से इन को प्राप्त हो जाएगी.मुझे तो पहले भी मेले की जमीन से कोई मतलब नहीं था और आगे भी नहीं रहेगा मैंने विधि सम्मत से जमीन किसानों से खरीदी है राजस्व विभाग तय करेगा मेरी जमीन का रकबा कहां है इस तरह के धरना प्रदर्शन और गीदड़ भभकी से हम डरने वाले नहीं हैं हम भी अपने संवैधानिक एवं मौलिक अधिकार के तहत इन के भ्रष्टाचार और अत्याचारों का तथ्य के साथ विरोध करेंगे

क्या विधायक को नहीं है अपने सरकारी तंत्र पर भरोसा

इसके आगे विनय सिंह ने बताया कि मैं तो पहले से ही शासन-प्रशासन पर विश्वास जता रहा हूं और मुझे अपनी सरकार और संबंधित सरकारी विभाग पर पूरा भरोसा है विधायक अनावश्यक दबाव बनाकर अपनी मनमानी करना चाहते हैं विधायक को शायद अपनी सरकार और सरकारी तंत्र पर भरोसा नहीं है इसलिए वह इस मामले का राजनीतिकरण कर रहे हैं पहले से भी हमेशा इस तरह के कार्यों में लिप्त रहे हैं लेकिन किसी भी मामले में साक्ष्य जुटा नहीं पाए.


जमीन की रजिस्ट्री का कार्य रजिस्ट्री राजस्व विभाग का होता है यह एक पूरी विभागीय प्रक्रिया है जिसमें पहले रजिस्ट्री फिर दाखिल खारिज होता है जमीन कोई वस्तु नहीं है कि हम उसको उठा ले कर चले जाएंगे जमीन जिस अवस्था में पहले थी आज भी वही है जहां तक पेपर का सवाल है मैंने खसरा खतौनी 12 साला सभी कुछ चेक करने के बाद रजिस्ट्री कराई है अगर विधायक को इसमें कुछ गलत लगता है तो पहले स्थानीय स्तर पर विभागीय आपत्ति करना चाहिए अनावश्यक रूप से लखनऊ दिल्ली का चक्कर लगाने के बाद लोगों को भ्रमित करना एवं बरगलाना उचित नहीं है

विधायक के विकास कार्यों को जनता मांगे जवाब

इसके आगे विनय सिंह ने कहा कि यह हमेशा भ्रष्टाचार का आरोप को दूसरे के ऊपर लगाकर बाद में उसकी सौदा बाजी करते हैं पूर्व में भी इस तरीके के आरोप दूसरों के ऊपर लगाकर फिर माफी मांगने का कार्य किए हैं. विधायक के अब तक के संपूर्ण कार्यकाल में से हुए विकास कार्यों की आपके माध्यम से जांच की मांग करता हूं और जनता से भी अपील करता हूं कि इनके कार्यकाल का जवाब ले जिसमें भारी धांधली हुई है. विधानसभा बेरिया में हो रहे अवैध कार्य नशा बालू खनन दारू गांजा के कार्यों जिनके बारे में दावा का आम जनमानस जानता है कि यह सब किसके इशारे पर हो रहा है कहीं सांसद जी की इमानदारी तो इनके लिए बाधा नहीं बन रही है जिससे कि यह सांसद जी का नाम बार-बार ले रहे हैं

विधायक बार-बार चिल्ला रहे हैं कि मेला की भूमि है

आप सब जमीन का पेपर देखें और बताएं कि मेले के नाम से कहां ऑफर और कितनी जमीन है या आप सभी जानते हैं कि जिले प्रदेश देश में और भी प्रसिद्ध और प्राचीन मिलने लगते हैं जिसमें बहुत से मिले काश्तकारों की भूमि में लगता है स्थानीय स्तर पर भी धनुष यज्ञ सुदिष्ट बाबा का मेला भी काश्तकारों की जमीन पर ही लगता है मैं तो संबंधित विभाग से यह जानना चाहता हूं कि जिन काश्तकारों का खसरा खतौनी में पुश्तैनी नाम चला आ रहा है उसे उसका अपनी जमीन पर मालिकाना हक होता है या नहीं मुझे तो कुछ कर सका रो के द्वारा यह पता चला कि विधायक खुद उक्त भूमि खरीदना चाहते थे क्योंकि खरीदना सके इसलिए बौखला गए हैं

वैसे यह टेलीविजन का कैमरा देखते ही कुछ ज्यादा ही बोल जाते हैं हम लोग कानून को मानने वाले लोग हैं फिर भी अगर यह जिस भाषा में जवाब चाहेंगे हम लोग जवाब देंगे आंदोलन के नाम पर झगड़ा करना फिर माफी मांग लेना इनकी फितरत है आप हमारे परिवार के बारे में पता कर सकते हैं हमने कभी भी कोई भी गैरकानूनी या अवैध तरीके से किसी भी जमीन की खरीदारी नहीं की है हमारे पूर्व क्षेत्र के सम्मानित किसान रहे हैं और आज भी सम्मानित तरीके से खेती करते हैं मैं विधायक से आपके माध्यम से यह जानना चाहता हूं कि अपने पूरे कार्यकाल दौरान इन्होंने अपने क्षेत्र के कितने युवाओं को सरकारी योजनाओं के माध्यम से किसी भी प्रकार का कोई भी उद्योग लगाने में सहायता की है और अपने क्षेत्र में कितने युवाओं को वैधानिक तरीके से रोजगार से जोड़ने का प्रयास किया है

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

डीडी प्रसार भारती लोगो 'भगवा रंग' में तब्दील से कांग्रेस का रंग हुआ लाल,जताई नाराजगी डीडी प्रसार भारती लोगो 'भगवा रंग' में तब्दील से कांग्रेस का रंग हुआ लाल,जताई नाराजगी
स्वतंत्र प्रभात। एस.डी सेठी।   दिल्ली दूरदर्शन के पब्लिक ब्राडकास्टर दूरदर्शन ने अपने एतिहासिक लोगो का रंग लाल से बदलकर केसारिया...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel