अधिकारियों,थानेदारों की निरंकुशता से त्रस्त व भाजपा मौजूदा जिला संगठन के कार्य प्रणाली से क्षुब्ध होकर मंडल अध्यक्ष ने दिया इस्तीफा

अधिकारियों,थानेदारों की निरंकुशता से त्रस्त व भाजपा मौजूदा जिला संगठन के कार्य प्रणाली से क्षुब्ध होकर मंडल अध्यक्ष ने दिया इस्तीफा

अधिकारियों,थानेदारों की निरंकुशता से त्रस्त व भाजपा मौजूदा जिला संगठन के कार्य प्रणाली से क्षुब्ध होकर मंडल अध्यक्ष ने दिया इस्तीफा स्वतंत्र प्रभातअंबेडकरनगर। लगभग एक दर्जनमंडलध्यक्ष जिला संगठन की कार्यप्रणाली के रवैए से क्षुब्ध होकर मुखर हो गए हैं उन्होंने कहा है कि मौजूदा जिला संगठन नेतृत्व के साथ काम करना मुश्किल हो रहा है

अधिकारियों,थानेदारों की निरंकुशता से त्रस्त व भाजपा मौजूदा जिला संगठन के कार्य प्रणाली से क्षुब्ध होकर मंडल अध्यक्ष ने दिया इस्तीफा

स्वतंत्र प्रभात
अंबेडकरनगर। लगभग एक दर्जनमंडलध्यक्ष जिला संगठन की कार्यप्रणाली के रवैए से क्षुब्ध होकर मुखर हो गए हैं उन्होंने कहा है कि मौजूदा जिला संगठन नेतृत्व के साथ काम करना मुश्किल हो रहा है जिलाध्यक्ष का ना तो फोन लगता है ना ही फोन उठाते हैं और न ही सकारात्मक उनके द्वारा कोई प्रति उत्तर मिलता है हताश निराश दर्जनों मंडलध्यक्षो ने कहा कि थाने व तहसील में पीड़ित बूथअध्यक्षों, कार्यकर्ताओं की पैरवी करने पर होना पड़ता

है बेज्जत अधिकारियों व थानेदारों के निरंकुश रवयै, जिला इकाई के कार्य प्रणाली से तंग आकर मुखर हुये पार्टी के वरिष्ठत्तम, वयोवृद्धि नेताओं ने कहा कि मौजूदा जिला संगठन के रवैये के कारण कार्य करना अपमानित महसूस कर रहे है इसी के नाते शांत होकर किनारा कस लिया गया है। थानाध्यक्ष की कार्यशैली से तंग आकर भाजपा मंडल अध्यक्ष बेवाना ने जिलाध्यक्ष कपिलदेव वर्मा को अपना स्तीफा लिखित पत्र के माध्यम से सौपा है। लिखित पत्र में मंडल अध्यक्ष ने आरोप लगाया हैं कि थानों पर भाजपा कार्यकर्ता बताने पर थानाध्यक्ष गालियां देते है। जिले के

थानाध्यक्ष व अन्य अधिकारी मिलकर भाजपा कार्यकर्ताओ का शोषण कर रहे हैं। किसी कार्यकर्ता की पैरवी करने पर थानों पर पैसे कि डिमांड होती हैं मैं कार्यकर्ताओ से घूस नही दिला पाऊंगा। पत्र में यह भी लिखा गया है कि सपा बसपा के लोगो के इशारे पर अधिकारी और थानाध्यक्ष पैसा लेकर भाजपाइयों का शोषण करते है । भाजपा की सरकार में भाजपा कार्यकर्ताओं की ही नही हो रही कोई सुनवाई बल्कि कार्यकर्ता गालियां खा रहे हैं। अहिरौली थाने पर सपा और बसपा के लोगों का जमवाड़ा लगता है। भाजपा कार्यकर्ताओं को देखते ही थानाध्यक्ष भड़क जाते है

भाजपा का कार्यकर्ता होने के कारण निर्दोष लोगों को भी परेशान करते है। रवि सिंह चौहान बेवाना मण्डल अध्यक्ष के साथ भाजपा युवामोर्चा में जिलाउपाध्यक्ष भी है। रवि सिंह चौहान भाजपा के बुरे दिन से ही भाजपा का ईमानदार सिपाही बनकर कार्य कर रहे थे। थानाध्यक्ष और अधिकारियों के रवैये को कार्यकर्ताओ के प्रति देख क्षुब्ध होकर मंडल अध्यक्ष ने अपना इस्तीफा पत्र सौंपा है। मंडल अध्यक्ष ने बताया अगर यही हाल रहेगा तो आने वाले दिनों में भाजपा का हाल क्या होगा।वही सदाराम वर्मा, गौरव श्रीवास्तव, दान बहादुर यादव आदि मंडलध्यक्षो ने भी अधिकारियों व थानेदारों के निरंकुश रवयै, जिला इकाई के कार्य प्रणाली से तंग आकर मुखर हो रहे हैं।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel