प्रदेश के झोला छाप डाक्टरों को डिग्री दिलाये सरकार- सुरेन्द्र बिन्द ।

प्रदेश के झोला छाप डाक्टरों को डिग्री दिलाये सरकार- सुरेन्द्र बिन्द ।

चिकित्सक रोगियों को देखना नही चाहते थे और उस समय झोला छाप डाक्टर आम जनता के लिए काफी सहायक साबित हुए।


स्वतंत्र प्रभात 

संतोष तिवारी रिपोर्टर-

भदोही। आत्मनिर्भर स्वास्थ्य कार्यकर्ता कल्याणकारी एसोसिएशन के तत्वावधान में रविवार को गोपीगंज के बडे शिव मंदिर परिसर में झोला छाप डाक्टरों की एक बैठक आयोजित हुई। जिसमें डाक्टरों के विभिन्न समस्याओं को लेकर विस्तृत चर्चा हुई। बैठक को संबोधित करते हुए संगठन के प्रदेश अध्यक्ष सुरेन्द्र बिन्द ने कहा कि कोरोना काल में जब बडे बडे हास्पिटल और चिकित्सक रोगियों को देखना नही चाहते थे और उस समय झोला छाप डाक्टर आम जनता के लिए काफी सहायक साबित हुए।


 और घर घर जाकर अपने जानकारी के हिसाब से ईलाज किये। लेकिन शासन प्रशासन के तरफ से झोला छाप डाक्टरों को हेय दृष्टि से देखा जाता है। सुरेन्द्र बिन्द ने कहा कि जिस तरह मध्यप्रदेश में झोला छाप डाक्टर को डिग्री की व्यवस्था की गई है ठीक वैसे ही उत्तर प्रदेश के झोला छाप डाक्टरों के लिए भी व्यवस्था की जाये। कहा कि बडे बडे हास्पिटल में बिना डिग्री डिप्लोमा के लोग दस बारह साल काम करके जब अपना प्रैक्टिस करते है तो लोग उन्हें झोला छाप कहते है। 


इसलिए सरकार को ऐसे कार्यों पर रोक लगानी चाहिए और सभी झोला छाप डाक्टरों को डिग्री उपलब्ध कराये। कहा कि किसी भी घटना हो जाने पर प्रशासन के लोग झोला छाप डाक्टरों पर कार्यवाही करने पर जुट जाते है। इसलिए झोला छाप डाक्टरों को डिग्री की नितांत जरूरत है। कहा कि कुछ लोग है जो सूचना के अधिकार के नाम पर झोला छाप डाक्टरों से वसूली  करते है।


 बैठक को संबोधित करते हुए अली हसन सिद्दीकी ने कहा कि कोरोना काल में झोला छाप डाक्टरों ने अपनी जान की बाजी लगाकर कार्य किया। और उनकी सेवा भावना समाज के लिए एक मिशाल है। सरकार को झोला छाप डाक्टरों के बारे में विचार करे जिससे स्वास्थ्य सेवा को और बेहतर बनाया जा सके। इस मौके पर बेहतर कार्य करने वाले डाक्टरों को सम्मानित भी किया गया।  इस बैठक में कई लोगों ने अपने अपने विचार व्यक्त किये। 


इस मौके पर सुरेन्द्र बिन्द, अली हसन सिद्दीकी, राजनाथ मौर्य, राम सागर मिश्रा, बनवारी लाल बिंद, निरहू प्रसाद बिंद, तेज बहादुर बिंद, अभिनव तिवारी, इंद्र कुमार, चंद्रशेखर यादव, चंद्रेश कुमार, शिव कुमार गौड़, दिनेश कुमार वर्मा, सुनील कुमार गौतम समेत काफी संख्या में झोलाछाप डॉक्टर मौजूद रहे।


 

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel