सीता पर अभद्र टिप्पणी करने वालों की तुरंत गिरफ्तारी एवं रासुका लगाने की मांग

पुलिस-के-ढुलमुल-रवैया-से-आक्रोशित-लोगों-ने-रामलीला-चौराहा-किया-जाम-आरोपियों-की-तत्काल-गिरफ्तारी-व-रासुका-लगाने-की-मांग
पुलिस के ढुलमुल रवैया से आक्रोशित लोगों ने रामलीला चौराहा किया जाम, आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी व रासुका लगाने की मांग

स्वतंत्र प्रभात लखीमपुर रवि प्रकाश सिन्हा

पुलिस के ढुलमुल रवैया से आक्रोशित लोगों ने रामलीला चौराहा किया जाम, आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी व रासुका लगाने की मांग

मोहम्मदी मे सोशल मीडिया पर हिंदू देवी देवताओं के विरुद्ध अभद्र पोस्ट डालने वालों की गिरफ्तारी न होने से उत्तेजित जनता व हिंदू संगठनों ने रामलीला चौराहे पर जाम लगा दिया जाम लगाने वाले हिंदू संगठनों के कार्यकर्ता देवी देवताओं के विरुद्ध आपत्तिजनक पोस्ट डालने वालों पर रासुका की कार्यवाही करने तथा उनकी तत्काल गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे धरना स्थल पर विधायक लोकेंद्र प्रताप सिंह, क्षेत्राधिकारी प्रदीप यादव भी पहुंच गए। प्रदर्शनकारियों ने विधायक के समझाने के बाद उप जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर अपना प्रदर्शन समाप्त किया।


मोहल्ला शुक्लापुर निवासी एक व्यक्ति ने अयोध्या में श्री राम मंदिर भूमि पूजन के दिन शाम को एक आपत्तिजनक पोस्ट डाली थी पोस्ट पर अन्य लोगों ने हिंदू देवी-देवताओं के विरुद्ध आपत्तिजनक कमेंट किए थे। 6 अगस्त को जब लोगों ने वह कमेंट पढ़े तो सैकड़ों उत्तेजित लोग कोतवाली जा पहुंचे, इसके बाद पुलिस ने चार नामजद व चार अज्ञात के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया, लेकिन आरोपियों को गिरफ्तार करने में पुलिस ने ढुल मुल रवैया अपनाया जिसके चलते 24 घंटे बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया

तथा विश्व हिंदू परिषद, हिंदू युवा वाहिनी सहित तमाम हिंदू संगठनों के कार्यकर्ता चौराहे पर पहुंच गए और जाम लगा दिया। लगभग 1 घंटे तक चौराहा जाम रहा इस दौरान विधायक लोकेंद्र प्रताप सिंह भी वहां पहुंच गए और जाम लगाए लोगों को कड़ी से कड़ी कार्रवाई करवाने का भरोसा दिलाते हुए कहा कि देवी देवताओं पर आपत्तिजनक पोस्ट व कमेंट करने वाले लोग देश व समाज के दुश्मन है उन्होंने मोहम्मदी को अशांत करने का प्रयास किया है,

ऐसे देश व समाज विरोधियो पर रासुका लगनी ही चाहिए। उपजिलाधिकारी स्वाति शुक्ला व सीओ प्रदीप यादव भी मौके पर पहुंचे दोनो अधिकारियों के सामने प्रदर्शनकारियों ने आपत्तिजनक पोस्ट डालने व आपत्तिजनक कमेंट करने वालो की तत्काल गिरफ्तारी व उन पर रासुका लगाने की मांग रखी, फिलहाल आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से लोगो का आक्रोश बढ़ता जा रहा है वही पुलिस का ढुल मुल रवैया अभी भी बरकरार है