प्रधानमंत्री मोदी ने सर छोटू राम को श्रृद्धांजलि से बढ़ाया प्रदेश के किसान और जवान का गौरव : बीरेंद्र सिंह

प्रधानमंत्री मोदी ने सर छोटू राम को श्रृद्धांजलि से बढ़ाया प्रदेश के किसान और जवान का गौरव : बीरेंद्र सिंह

भिवानी (सुरेंद्र गिल) 

                           केंद्रीय इस्पात मंत्री चौ. बीरेंद्र सिंह ने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी ने गढ़ी-सापला में किसानों के मसीहा सर छोटूराम की प्रतिमा के अनावरण के दौरान अपना संबोधन छोटू राम और उनके द्वारा किसान व कमेरे वर्ग के लिए किए गए

प्रयासों पर केंद्रित रखकर हरियाणा प्रदेश के किसान के साथ-साथ यहां के जवान का भी गौरव बढ़ाया है। प्रधानमंत्री ने सरदार वल्लभ भाई पटेल और सर छोटूराम को एक समान पायदान रखा, जो अपने-आप में प्रदेश की जनता के लिए एक गर्व की बात है। 


केंद्रीय मंत्री श्री सिंह वीरवार को स्थानीय लोक निर्माण विश्राम गृह में गढ़ी-सांपला में नौ अक्टूबर को आयोजित दीन बंधु स्मृति रैली की सफलता पर कार्यकत्र्ताओं का धन्यवाद करने के दौरान पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में सर छोटू राम द्वारा उस समय विकट परिस्थितियों में किसान और जवान के लिए किए गए कार्यों की प्रशंसा की और उल्लेख किया कि छोटू राम के प्रयासों की बदौलत ही आज खेती और खेल के साथ-साथ सीमा पर देश की रक्षा करने में हरियाणा प्रदेश के जवान सबसे आगे हैं।

उन्होंने कहा कि हम व्यापार में भी अग्रणी हैं, परिणाम स्वरूप आज इस्पात के निर्माण में 80 प्रतिशत लोग हमारे प्रदेश से हैं। उन्होंने कहा कि सांपला रैली में पूरे प्रदेश से किसानों के साथ-साथ छोटू राम से जुड़ी सभी संस्थाओं से लोग भारी जोश-उत्साह के साथ पहुंचे, जिनका जितना धन्यवाद किया जाए उतना कम है। 


उन्होंने कहा कि सर छोटूराम किसी एक वर्ग के न होकर सभी वर्गों के नेता थे। वे एक समाज सुधारक की भूमिका में थे। उनके समय में दिल्ली के आसपास 250 कि.मी. के दायरे में शिक्षण संस्थाओं का अभाव था, लेकिन बाद में शिक्षण संस्थाओं के निर्माण में छोटूराम की अहम भूमिका रही है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार अन्य वर्गों के साथ-साथ किसान वर्ग की भलाई के लिए योजनाएं बना रही हैं। सरकार किसानों की तकलीफ को भलि-भांति समझती है। इसलिए फसलों का रिकार्ड समर्थन मूल्य दिया जा रहा है।


उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को छोटूराम के विचारों से अवगत करवाने के लिए पहले छोटूराम विचार मंच और छोटूराम ट्रस्ट गठन किया गया था, जिनके बैनर तले ही सांपला रैली आयोजित की गई थी। अब किसान-कमेरे व नौजवानों मे जागरूकता के लिए किसान चैंबर्स ऑफ कॉमर्स बनाया गया है,

जिसके जस्टिस प्रीतमपाल पैटर्न बनाए गए हैं। इस संगठन के माध्यम से नौजवानों को सरकारी नौकरी की तरफ अधिक भागदौड़ न करके उद्योग, व्यवसाय, गैर सरकारी क्षेत्र में कामयाब होने के लिए प्रेरित किया जाएगा। युवाओं को बताया जाएगा कि वे किस प्रकार से बैंक ऋण सहायता लेकर अपना उद्योग या अन्य व्यवसाय स्थापित कर सकते हैं। 


केंद्रीय मंत्री ने सांपला रैली में भिवानी से पहुंचे कार्यकत्र्ताओं का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि उनका प्रयास रहेगा कि प्रदेश के अन्य जिलों में जाकर भी कार्यकत्र्ताओं का धन्यवाद किया जाए। इस मौके पर जिला परिषद के चेयरमैन रमेश ओला, वीरेंद्र किरोड़ी, किरपाल धनाना, अशोक सिवाच, रज्जू अहलावत, जगदीश मिताथल, हर्ष वर्धन मान, संदीप श्योराण व मनोज तंवर तिगड़ाना सहित अनेक कार्यकत्र्ता मौजूद थे।

Loading...

Comments