महरुआ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो शातिर मोबाइल लुटेरे गिरफ्तार

महरुआ-पुलिस-को-मिली-बड़ी-सफलता,-दो-शातिर-मोबाइल-लुटेरे-गिरफ्तार

मुठभेड़ के दौरान सिपाही जख्मी, एक वांछित भागने में हुआ सफल


ब्यूरो रिपोर्ट – विवेक पाण्डेय


भीटी अम्बेडकरनगर।

बीते तीन सितंबर रात्रि लगभग 8ः30 बजे रानीपुर कुड़वार निवासी दीपचंद्र और उनकी पत्नी आरती महरुआ बाजार खरीदारी करने के उपरांत अपने घर जा रहे थे कि तभी 3 बाइक सवार आए और उनसे रास्ता पूछने के दौरान उक्त दंपति की मोबाइल छीन कर रफूचक्कर हो गए। जिस के क्रम में थाना महरुआ में अपराध संख्या 183/20 भारतीय दंड संहिता की धारा 392 के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया था। उक्त घटना को गंभीरता से लेते हुए थाना अध्यक्ष शंभू नाथ के द्वारा कड़ी मशक्कत एवं खोजबीन की जा रही थी और थाने के स्पेशल बहादुर सिपाहियों को घटना का अनावरण करने के लिए आदेशित किया गया था और हर पल थाना अध्यक्ष शंभूनाथ के द्वारा मामले की निगरानी तथा दिशा निर्देश जारी किया जा रहा था। थानाध्यक्ष के द्वारा इस घटना का सफलतापूर्वक अनावरण यक्ष प्रश्न बना हुआ था। उक्त के क्रम में जगह जगह दबिश दी जा रही थी। तभी चेकिंग के दौरान ऊसर का पुरवा हींड़ी पकड़िया के पास संदिग्ध अवस्था में बाइक पर तीन व्यक्ति आते हुए दिखे पुलिस को चेकिंग करते हुए देखकर पुलिस से बचकर दूसरी तरफ भागने लगे। जब मौजूद पुलिस बल के द्वारा उनको रोकने का प्रयास किया गया तो अभियुक्तों ने पुलिस पार्टी पर फायर झोंक दिया जिससे सिपाही सरफराज अली को पैर में गोली लग गई।

जवाबी फायरिंग में वांछित अखिलेश पुत्र घिराऊ निवासी करौना मनसापुर थाना महरुआ को भी पैर में गोली लगी व एक अभियुक्त को नितेश उर्फ सचिन पुत्र राम चंद्र निवासी सिलावट को घेराबंदी करके बहादुरी के साथ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। वही मौके का फायदा उठाकर तीसरा वांछित पवन सिंह पुत्र भगवान बक्ससिंह निवासी मगनपुर अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहा।

घायल अवस्था में अभियुक्त अखिलेश व सिपाही सरफराज अली को तुरंत जिला चिकित्सालय अम्बेडकरनगर भेजा गया। अपराधियों को गिरफ्तार करने के लिए थानाध्यक्ष महरुआ शंभूनाथ उपनिरीक्षक चंद्रभान सिंह कांस्टेबल सरफराज अली कांस्टेबल केशव सिंह कांस्टेबल मुलायम यादव कांस्टेबल नवनीत कुमार कांस्टेबल मोनू चैधरी कांस्टेबल प्रवीण राजभर मुस्तैद रहे। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पुलिस अधीक्षक अम्बेडकरनगर आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि आरोपियों के पास से बिना नंबर की पैशन प्रो मोटरसाइकिल एक 315 बोर का कट्टा 4 मोबाइल फोन बरामद हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here