जिलाअधिकारी ने बेटी बचाओ ,बेटी पढ़ाओ योजना का हरी झण्डी दिखाकर किया शुभारम्भ ।

जिलाअधिकारी  ने बेटी बचाओ ,बेटी पढ़ाओ योजना का हरी झण्डी दिखाकर किया शुभारम्भ  ।

उमेश दुबे (रिपोर्टर )

भदोही । 

भारत सरकार द्वारा वित्तपोषित महिला शक्ति केन्द्र योजना के अन्तर्गत गठित बेटी बचाओ ,बेटी पढ़ाओ योजना को जिलाधिकारी  द्वारा हरी झण्डी दिखाकर योजना का शुभारम्भ किया गया। बेटी बचाओ बेटीे पढ़ाओं योजना में महिलाओं से सम्बन्धित सभी योाजनाओं, कार्यक्रमों के सम्बन्ध में  योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन हेतु न्याय पंचायतवार प्रचार प्रसार शुरू कर दिया गया है।

जिलाधिकारी  ने कहा कन्या भ्रूण की हत्या एक जघन्य अपराध तो है ही, मानवता और प्रकृति के प्रति भी अत्यन्त निदंनीय कार्य है। इससे एक ओर प्राकृति लिंगा अनुपात में असंतुलन पैदा होता है वहीं दूसरी ओर मानवीय मूल्यों का भी ह्रास होता है। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि जनपद के समस्त अल्ट्रासाउण्ड सैन्टर्स का निरीक्षण किया जाना सुनिश्चित करें।

उन्होंने कहा कि हमारे देश और जिले में लिंग अनुपात में भारी कमी का होना एक गम्भीर एवं चिंताजनक समस्या है। उन्होंने कहा कि इस समस्या का समाधान केवल बैठकों से ही सम्भव नहीं है, बल्कि जन सामान्य को लिंग अनुपात के संकट के प्रति जागरूक करना आज के समय की सबसे बड़ी आवश्यकता है। 

साथ ही साथ  जिलाधिकारी ने  कहा कि बेटी बचाओं बेटी पढाओं कार्यक्रम का उद्देश्य लिंग के आधार पर भेद कम करना, भ्रूण हत्या को रोकना, प्रत्येक दशा में कन्या को बचाना और बालिकाओं को शिक्षा हेतु प्रेरित करना है। उन्होने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि जनपद के जिन गाॅवों में चाइल्ड सेक्स रेशियों में कमी है,

उन गाॅवों में विशेष जनजागरूकता कार्यक्रमों से प्रचार प्रसार कराया जाये और जनपद के महत्वपूर्ण और सार्वजनिक स्थानों पर होल्डिंग लगवाया जाना सुनिश्चित करे। उन्होने समस्त अधिशासी अधिकारी नगर पालिका और नगर पंचायतों को निर्देश देते हुए कहा कि वे अपनी अपनी नगर पालिका और  नगर पंचायत के ओवर हैट टंकी पर बेटी बचाओं और बेटी पढाओं कार्यक्रम के अन्तर्गत बाल पेन्टिग कराना भी सुनिश्चित करे।

उन्होने मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि जिन पात्र लाभार्थियांें के आवेदन लम्बित पडे है, उनका निस्तारण पूरी गुणवत्ता के आधार पर जल्द से जल्द कराना सुनिश्चित करे और कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत भी जनजागरूकता कार्यक्रम चलाये जाये ताकि जनपद के कोई भी पात्र कन्या इस योजना से वंचित न हो सके।

इस दौरान समाज कल्याण अधिकारी महेन्द्र यादव, महिला शक्ति केन्द्र से प्रियंका गुप्ता, रेशमा भारती, वन स्टाॅप सेन्टर से सेन्टर मैनेजर शिल्पा शुक्ला, जिला प्रोबेशन कार्यालय से राजकुमार गुप्ता, विवेक गुप्ता, राजकुमार पाल, रामतेज सिंह कुणाल गुप्ता अमनरूरल डेवलपमेन्अर वेलफेयर सोसाइटी के सचिव राजेश कुशवाह एवं अभिनव समिति के सदस्य आदि उपस्थित रहें।