अवैध देसी शराब फैक्ट्री का किया भंडाफोड़ लाखों की शराब बरामद -दो गिरफ्तार

अवैध-देसी-शराब-फैक्ट्र- का-किया-भंडाफोड़-लाखों-की-शराब-बरामद -दो-गिरफ्तार

स्वतंत्र प्रभात

पुलिस के मुताबिक पॉवर कंपनी का फर्जी लोगों लगाकर करते थे खेल
पकड़े गए आरोपियों का नाम सौरव मिश्रा और अनुज जायसवाल है

लखनऊ- राजधानी लखनऊ के चिनहट इलाके में पुलिस ने चल रहे हैं एक अवैध देशी शराब फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए 75 लाख रुपए कीमत की शराब बरामद की है।और साथ ही दो आरोपियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है हालांकि गैंग का सरगना अभी पुलिस पकड़ से दूर है। आरोपियों से पूछताछ के दौरान बताया कि शराब बनाने के लिए कैमिकल के अलावा यूरिया का भी इस्तेमाल करते थे,यूरिया मिलने से शराब का नशा बढ़ जाता था।

पुलिस ने बताया की मुखबिर की सूचना पर बीती रात चिनहट थाने के देवरिया गांव में चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। तभी स्कूटी सवार दो युवकों को रोका गया। जिनके कब्जे से चार पेटी देशी शराब बरामद हुई। पूछताछ करने पर आरोपियों ने तो पहले पुलिस को गुमराह करने कि कोशिश की लेकिन बाद में अपना जुर्म कबूल कर लिया।उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपियों ने अपना नाम सौरव मिश्रा और अनुज जायसवाल बताया। पूछताछ में दोनों ने बताया कि उनके गैंग का सरगना आदित्य कुमार है,जबकि उसके साथ गुलशन उर्फ गुल्लू,अभिषेक सिंह उर्फ रिंकू सिंह, परेस,विकास,आशुतोष,बबलू,अंकित और अमित भी काम करते हैं। पुलिस ने आरोपियों कि निशानदेही पर देवरिया गांव में ही एक मकान से 75 लाख की अवैध देशी शराब बरामद की।

पॉवर कंपनी का फर्जी लोगों लगाकर करते थे फर्जीवाड़ा
पूछताछ में ये बात सामने आई है कि आरोपी पॉवर कंपनी का फर्जी लोगों बनाकर अवैध देशी शराब की बोतलों में चिपका देते थे और उसे असली बताकर बेच देते थे। आरोपी अवैध देशी शराब तैयार कर उसे लखनऊ समेत आसपास के जिलों में बेचते थे। इसमें देशी शराब का ठेका लेने वालों की मिलीभगत रहती थी। उन्हीं की मदद से असली शराब की जगह नकली शराब ठेके से बेची जाती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here