जरूरतमंद परिवारों के लिए मसीहा बने पप्पू उर्फ राजदीप

ललित किशोर कुमार

स्वतंत्र प्रभात

पटना: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस में लॉकडाउन के चलते रोज कमाने खाने वाले लोग और गरीबों को भोजन में दिक्कतें आ रही हैं। प्रवासी लोग जो अपने घर नहीं जा पा रहे हैं और काम न मिलने की वजह से कुछ कमा नहीं रहे है तो ऐसे लोगों को बहुत ज्यादा ही परेशानियां हो रही है।

इन्ही जरूरतमंद और लाचार परिवारों को देखते हुए पटना के पप्पू उर्फ राजदीप ने मसीहा बनकर आगे आया है।जो रोज कम से कम 800-900 लोगों के बीच राहत समाग्री कि पैकेट अपने से पटना जिला के विभिन्न हिस्सों में घूम-घूमकर गरीब,असहाय, निर्धन तथा जरूरतमंद लोगों के बीच वितरण कर रहे हैं।

राहत वितरण के दौरान पप्पू उर्फ राजदीप ने आपके अपने अखबार स्वतंत्र प्रभात को बताया कि कोरोना संक्रमण के बीच जब से लाॅकडाउन हुआ है तब से लेकर आजतक लगातार राहत समाग्री का वितरण किया जा रहा है।बातचीत के क्रम में राजदीप ने कहा कि राहत सामग्री वितरित करते समय सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही प्रशासन के निर्देशों का पालन किया जा रहा है।

बताते चलें कि राजदीप के द्वारा पटना के साईं मंदिर,श्री कृष्णा पुरी,बोरिंग रोड,पंचमुखी मंदिर के आसपास, सड़क किनारे रहने वाले रिक्सा चालक, प्रवासी मजदूरों,झुग्गी झोपड़ी में जीवन गुजर बसर करने वाले सभी ज़रूरतमंदों तक लगातार भोजन वितरण किया जा रहा है।

राहत समाग्री वितरण के साथ लोगों को कर रहे हैं जागरूक

बातचीत के दौरान पप्पू उर्फ राजदीप ने बताया कि कोरोना से बचने के लिए सभी लोगों को विस्तृत जानकारी भी दी जाती है।उन्होंने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए हाथों को अच्छे से धोने तथा बचाव के उपयोगों पर अमल करना चाहिए।विभिन्न क्षेत्रों में घूम-घूमकर लोगों को जागरूक करते हुए राजदीप ने लोगों को सफाई पर ध्यान दिलाते हुए हाथ धुलाई कार्यक्रम भी करते है।

कोरोना वायरस जैसी जानलेवा बिमारी से बचाव का एकमात्र साधन जागरूकता ही है। उन्होंने कहा कि साफ सफाई, खाना खाने से पहले या बाद में साबुन से अच्छी तरह हाथ धो लें।

पप्पू उर्फ राजदीप ने कहा कि छींकते या खांसते समय मुंह व नाक पर रूमाल या टिश्यू पेपर का प्रयोग करें।अगर आप घर से बाहर निकलते है।तो अपने मुंह पर मास्क लगाकर चले।साथ ही उन्होंने लोगों को जागरूक करते हुए लोगों को कोरोना से सावधान रहने को कहा गया।इस अभियान में दर्जनों युवा भाग ले रहे है।