03 डाक्टरों को सीएमओ कार्यालय से किया संबद्ध, कई लापरवाह अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर गिरा कार्यवाही की गाज

03 डाक्टरों को सीएमओ कार्यालय से किया संबद्ध, कई लापरवाह अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर गिरा कार्यवाही की गाज

टीकाकरण में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर 06 प्रभारी चिकित्साधिकारियों तथा 04 खण्ड विकास अधिकारियों को कारण बताओं नोटिस



बस्ती। बस्ती जिले के जिलाधिकारी महोदय टीकाकरण में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने 06 प्रभारी चिकित्साधिकारियों तथा 04 खण्ड विकास अधिकारियों को कारण बताओं नोटिस जारी किया है। इसके अलावा 03 डाक्टरों को सीएमओ कार्यालय से संबद्ध किया है। विकास भवन सभागार में आयोजित बैठक में उन्होने कहा कि विगत 02 दिनों से 15 हजार से भी कम टीकाकरण हो रहा है,

 जबकि लक्ष्य प्रतिदिन 33 हजार का है। प्रभारी चिकित्साधिकारियों ने बताया कि सी.एच.ओ., स्टाफ नर्स एवं संविदा ए.एन.एम. के हडताल पर रहने के कारण कार्य प्रभावित हुआ है। हड़ताल कराने में मुख्य रूप से सी.एच.सी. भानपुर के आयुष चिकित्सक डॉ0 अमीश कुमार तथा आर.बी.एस.के. टीम के डॉ0 विकास कुमार एंव डॉ0 अजय कुमार के अलावा एम.सी.टी.एस. आपरेटर राजीव निषाद, की मुख्य भूमिका रही। इन सभी ने कर्मचारियों को कार्य न करने के लिए उकसाया। जिलाधिकारी ने इसको गम्भीरता से लिया तथा उनके निर्देश पर इन सभी को सी.एम.ओ. ने अपने कार्यालय से संबद्ध कर दिया है।

जिलाधिकारी ने कहा है कि कोविड-19 की रोकथाम एंव टीकाकरण सरकार की प्राथमिकताओं में से एक है। इसमें बाधा पहुॅचाने वाले के विरूद्ध महामारी अधिनियम के अन्तर्गत कार्यवाही की जायेंगी। उन्होने हड़ताल पर रहने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों का उस दिन का वेतन एंव मानदेय बाधित करने का भी निर्देश दिया है।

जिलाधिकारी ने ब्लाक दुबौलिया के ग्राम बरसॉव के टीकाकरण केन्द्र का बुधवार को निरीक्षण किया था। यहॉ पर 223 लोगों को टीके का पहला डोज नही लगा है। साथ ही आगनबाड़ी कार्यकत्री द्वारा ड्यिुलिस्ट ग्राम प्रधान एंव कोटेदार को नही दी गयी। इसके लिए उन्होने एम.ओ.आई.सी. डॉ0 प्रभाकर चौधरी, बीडीओ वर्षावंग, सी.डी.पी.ओ., ग्राम सचिव तथा आगनबाडी कार्यकत्री को कारण बताओं नोटिस जारी करते हुए शासकीय कार्य में रूचि न लेने पर अनुशासनिक कार्यवाही करने की चेतावनी दिया है। इसके साथ ही उन्होने ग्राम प्रधान बरसॉव को उ0प्र0 पंचायत राज अधिनियम की धारा-95 की उप धारा-01 के खण्ड-छ के तहत नोटिस जारी किया है।

उन्होने विकास खण्ड में प्रतिदिन ढाई हजार से कम वैक्सीनेशन किए जाने पर बहादुरपुर के बीडीओ आलोक दत्त उपाध्याय तथा एम.ओ.आई.सी. डॉ0 पवन वर्मा, रामनगर के बीडीओ सुनील कुमार कौशल तथा एम.ओ.आई.सी. भानपुर, कप्तानगंज के बीडीओ सुशील कुमार पाण्डेय तथा एम.ओ.आई.सी. को कारण बताओं नोटिस जारी करते हुए शासकीय कार्य में रूचि न लेने पर अनुशासनिक कार्यवाही करने की चेतावनी दिया है।

 जिलाधिकारी ने नगरीय क्षेत्र में 24 से 30 नवम्बर के बीच 15 हजार के सापेक्ष 4698 लोगों का टीकाकरण कराये जाने पर नोडल अधिकारी डॉ0 अजीत कुशवाहा को भी कारण बताओं नाटिस जारी किया है।जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि ग्राम पंचायतों की भाति नगर निकाय में सभी वार्ड के टीकाकरण से वंचित लोगों की सूची बनायी जाय। उन्होने यह भी निर्देश दिया है कि जिले के सभी 1185 ग्राम पंचायतों की डियूलिस्ट जनपद मुख्यालय पर कार्यक्रम अधिकारी एकत्र करेंगी। डियुलिस्ट न मिलने पर सी.डी.पी.ओ. तथा सुपरवाईजर के खिलाफ कार्यवाही की जायेंगी।

 टीकाकरण न कराने वाले लोगों को कोटेदार खाद्यान्न वितरण नही करेंगे। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिया है कि हड़ताल पर रहने वाले कर्मचारियों की सूची प्रतिदिन शाम को सी.एम.ओ. कार्यालय में संबंधित एम.ओ.आई.सी. उपलब्ध करायेंगे तथा इनके विरूद्ध सरकारी कार्य में बाधा की धारा में मुकदमा दर्ज कराया जायेंबैठक में सीडीओ डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति, एडीएम अभय कुमार मिश्र, डीडीओ अजीत श्रीवास्तव, एसडीएम आनन्द श्रीनेत, गुलाब चन्द्र, जीके झा, एसीएमओ डॉ0 फखरेयार हुसैन, डॉ0 सीके वर्मा, प्रभारी चिकित्साधिकारीगण, खण्ड विकास अधिकारी तथा विभागीय अधिकारी उपस्थित रहें।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel