पीसीएस प्री-2021 में आयोग की अपील पर निर्णय सुरक्षित

पीसीएस प्री-2021 में आयोग की अपील पर निर्णय सुरक्षित

लोक सेवा आयोग पीसीएस-2021 के लिए गत पांच अगस्त को साक्षात्कार की प्रक्रिया पूरी कर चुका है  


स्वतंत्र प्रभात

प्रयागराज इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पीसीएस प्री-2021 का परीक्षा परिणाम रद्द किए जाने के मामले में दाखिल लोक सेवा आयोग और राज्य सरकार की विशेष अपील पर मंगलवार को अपना निर्णय सुरक्षित कर लिया है।यह सुनवाई मुख्य न्यायमूर्ति राजेश बिंदल एवं न्यायमूर्ति जेजे मुनीर की खंडपीठ ने की है। आयोग की दलील थी की सिर्फ दो अभ्यर्थियों के लिए पूरा परिणाम रद्द कर दिया गया जबकि याची के अधिवक्ता ने कहा कि परिणाम पूरा रद्द नहीं हुआ है क्योंकि आयोग ने हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी साक्षात्कार लिया है।दोनों पक्ष की ओर से कई तकनीकी मुद्दे उठाए गए, जिन पर सुनवाई के बाद कोर्ट ने निर्णय सुरक्षित कर लिया 

गौरतलब है कि हाईकोर्ट की एकल पीठ ने भर्ती प्रक्रिया में पूर्व सैनिकों का पांच फीसदी आरक्षण न देने पर पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा 2021 के परिणाम को रद्द कर दिया था।साथ ही कहा था कि आयोग पूर्व सैनिकों को पांच फीसदी आरक्षण देते हुए नए सिरे से प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम जारी करे। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने एकल पीठ के इस आदेश को अपील के माध्यम से चुनौती दी है। यह भी बताना जरूरी है  

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष