Kushinagar : यातायात व्यवस्था से खुलते हैं विकास के रास्ते, नेता जी लोग नही उठाते हैं बोझ 

Kushinagar : यातायात व्यवस्था से खुलते हैं विकास के रास्ते, नेता जी लोग नही उठाते हैं बोझ 

जटहां–बगहा गंडक नदी पर पूल निर्माण मुद्दा 

 कुशीनगर। 18वीं लोक सभा चुनाव के मद्देनजर कुशीनगर में विकास के ढिढोरा पीटने वाले नेता जी लोगों से जनता एक सवाल पूछ रही हैं, मांग करते डेढ़ दशक से अधिक समय गुजर गया लेकिन दो राज्य को आपस में जोड़ने वाली जनमन की मांग गंडक नदी पर जटहां–बगहा पूल सह सड़क निर्माण क्यों नहीं हो पाया..?

 
कहा जाता है यातायात व्यवस्था से विकास के अनंत दरवाजे खुलते हैं जिससे आम जनजीवन में आशा की किरण से खुशियां मिलती है, लेकिन ऐसा लगता हैं नेता जी लोगों से विकास की बाते करना बेमानी हो चाहे जनता की बोझ नही उठाना चाहते हो, तभी तो पिछड़े क्षेत्र का दुर्भाग्य है जब चुनाव पड़ता है तो सिर्फ वोट लेने से मतलब नेता जी लोगों को रहता है। ऐसा भी नही कि जनता नेता जी लोगों से जटहां बगहा पूल निर्माण कराने की बात न कहती हो, लेकिन सांसद न विधायक जहमत उठाना नही चाहते हैं तभी तो जनता की बहु प्रतीक्षित ऐतिहासिक मांग मोदी सरकार तक नही पहुंच पाती हैं, बस इसी का अफसोस है कि आज तक पिछड़े क्षेत्र के विकास के रास्ते आजादी से आज तक बंद हैं। एक और बड़ी विडंबना है चुने गए सांसद विधायक से कहने पर बिना सर्वे डीपीआर बनवाए इंजीनियर बनकर तपाक से कहते हैं, जटहां–बगहा पूल परियोजना बहुत बड़ी बजट हैं ये तो हद हो गई एक क़दम चले नही और ऊपर से जनता के उम्मीदों पर पानी फेर दिया !
विदित हो कि लोकसभा कुशीनगर और पडरौना विधान सभा के 25 किमी उत्तर सिर्फ एक विशुनपुरा ब्लॉक छोड़ दिया जाय तो कोई बताए कितने विकास के संसाधन हैं..? अगर नही तो फिर जानिए एक यातायात मार्ग प्रशस्त होने से अनंत विकास के दरवाजे खुल जायेगे।
कुशीनगर जनपद और पश्चिमी चंपारण बिहार के बगहा दोआब से गंडक नदी पटना बिहार में जाकर मिलती हैं। बगहा से जटहां गंडक क्षेत्र की दूरी मात्र 7.2 किमी ही हैं। एक से दूसरे राज्य शहर आने जानें में 65 किमी यातायात हेतु दूरी पड़ता हैं। 
जी हां यदि बगहा से जटहां गंडक नदी पर पुल निर्माण मोदी सरकार द्वारा करवा दिया जाता तो 65 से घटकर मात्र 7.2 किमी दूरी जाती और पूल परियोजना यातायात व्यवस्था से विकास के अनंत दरवाजे खुल जाते और जनता का डेढ़ दशक का विकास का सपना साकार हो जाता। पडरौना विधान सभा क्षेत्र के विशुनपुरा भाजपा मंडल अध्यक्ष राधेश्याम गुप्ता, उपाध्यक्ष श्रीकांत जायसवाल, व्यापार मंडल अध्यक्ष प्रदीप जायसवाल, भाजपा मंडल मंत्री सिद्धार्थ कुशवाहा,समाजसेवी प्रमोद रौनियार, भाजपा पिछड़ा मोर्चा अध्यक्ष भोला जायसवाल, ग्राम प्रधान नर्वदेश्वर चौरसिया, मोहन कुशवाहा, उगनी देवी, सतीश गौतम, नथुनी चौहान, सुरेश जायसवाल, लल्लन गुप्ता, मुनीब भारती सहित दर्जनों ग्राम प्रधानों ने जनप्रतिनिधियों सहित मोदी सरकार से जटहां बगहा पूल निर्माण हेतु सर्वे करवाकर डीपीआर बनवाने की मांग की गई हैं।
 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष