कृषि अधिकारी ने जांच कर सीज की दुकान

जांच के दौरान पाई गई अनियमितता

कृषि अधिकारी ने जांच कर सीज की दुकान

 

उन्नाव।

 

आज जिला कृषि अधिकारी/उर्वरक निरीक्षक द्वारा  विकास खण्ड बिछिया में स्थित उर्वरक प्रतिष्ठानो का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान में० प्रताप किराना स्टोर के सामने वाले कमरे में यूरिया रखी हुई पायी गई जिसकी जाँच व पूछताछ पर दुकान/कमरे में कोई उपस्थित नही मिला। जिसके उपरान्त बगल में स्थित पान दुकानदार श्री सुनील कुमार सिंह द्वारा सम्बन्धित को फोन करने पर बताया गया कि वह अचलगंज में है,

आने में लगभग 30 मिनट का समय लग जायेगा। अधोहस्ताक्षरी द्वारा लगभग 30 मिनट इंतजार करने पर प्रताप सिंह पुत्र विश्वनाथ सिंह मौके पर उपस्थित हुये।  सिह से कमरा / दुकान में मौजूद यूरिया (कानपुर फर्टिलाईजर्स एण्ड केमि० लि०) लगभग 180 बोरी के बारे में पूछे जाने पर उनके द्वारा कोई भी संतोषजनक उत्तर नही दिया गया। उर्वरक प्राधिकार पत्र माँगे जाने पर  प्रताप सिंह द्वारा कोई भी उर्वरक प्राधिकार पत्र प्रस्तुत नही किया गया।

  प्रताप सिंह के पास न ही पी०ओ०एस मशीन और न ही रिर्टलर आई०डी० पायी गई। जिससे प्रथम दृष्टया प्रतीत होता है कि प्रताप सिंह पुत्र विश्वनाथ सिंह द्वारा बिना उर्वरक प्राधिकार पत्र के अवैध रूप से उर्वरक का व्यापार किया जा रहा है, जो उर्वरक नियंत्रण आदेश 1985 एवं आवश्यक वस्तु अधिनियत 1955 के नियमों के विपरीत है। प्रतिष्ठान में उपलब्ध स्टॉक यूरिया (कानपुर फर्टिलाईजर्स एण्ड केमि० लि०) लगभग 180 बोरी से एक नमूना नियमानुसार ग्रहित किया गया, जिसे विश्लेषण हेतु प्रयोगशाला भेजा जायेगा। तत्पश्चात कमरा /दुकान को सील कर दिया गया।

 प्रताप सिंह पुत्र विश्वनाथ सिंह निवासी दुआ पोस्ट जमुका ब्लाक बिछिया जनपद उन्नाव के विरूद्ध उर्वरक नियंत्रण आदेश 1985 एवं आवश्यक वस्तु अधिनियत 1955 की सुसंगत धारा 3/7 (ई०सी० एक्ट) एवं अन्य सुसंगत अधिनियम की सुसंगत धाराओं के अन्तर्गत आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel