अवैध खनन को रोक लगाने में स्थानीय पुलिस प्रशासन तुलसीपुर विफल

पुलिस अधीक्षक के द्वारा अवैध खनन रोकने के लिए दिए गए सभी दिशा निर्देशों की धज्जियां उड़ाते दिख रहे खनन माफिया

अवैध खनन को रोक लगाने में स्थानीय पुलिस प्रशासन तुलसीपुर विफल

बेखौफ खनन माफियाओ को नही किसी आदेश और पर्यावरण की चिंता

बलरामपुर/तुलसीपुर-

जब सैंया भये कोतवाल तब डर काहे का की कहावत से इनकार नही किया जा सकता है यह धारणा जनपद के अवैध खनन माफियाओ के देखे जा रहे जबकि योगी सरकार का सख्त आदेश खनन को लेकर है कि अवैध खनन पर पूर्ण अंकुश लगाया जाये जिसके लिये प्रत्येक जिले में खनन की शिकायत को लेकर टोल फ्री नम्बर भी एलाट किया गया।

IMG-20230930-WA0014

जिसपर अवैध खनन की शिकायत की जा सके और अवैध खनन पर अंकुश के साथ दंडात्मक कार्यवाही की जा सके। जिसको लेकर जिले के एसपी केशव कुमार और डीएम अरविंद कुमार का सख्त निर्देश अवैध खनन को लेकर है।फिर भी अवैध खनन का काला कारोबार धड़ल्ले से फलफूल रहा है।

पहाड़ी नाले और नदियों पर शाम ढलते ही अवैध खनन की गाड़ियां बेखौफ सड़को पर फर्राटे भर्ती नजर आती है और खनन के कारोबार में खनन माफियाओं के बल्ले बल्ले है।बात करे अगर तुलसीपुर क्षेत्र में पड़ने वाले पहाड़ी नालो और नदियों की तो देख कर यह नही लगता कि खनन पर अंकुश है।

जिसकी तस्वीर आप सड़क के किनारे रेत की बड़े पैमाने पर स्टॉक किया हुआ देख सकते है जिसको पर्मिट के नाम प बेचने का खेल होता है। वही नदियों और नालो में अवैध खनन जारी है जिसपर स्थानीय प्रशासन की संलिप्तता से इनकार नही किया जा सकता। अगर सूत्रों की बात की जाय तो अवैध खनन माफियाओं के साथ स्थानीय प्रशासन के मौन स्वीकृत अगर न हो तो अवैध खनन सम्भव ही न हो।

वही जिले के आलाधिकारी को सन्तुष्ट करने के लिए कभी कभार एक दो खनन की गाड़ियों को पकड़ कार्यवाही कर जिले के अधिकारियों को सन्तुष्ट कर दिया जाता बाकी अवैध खनन पर अंकुश लगाने को लेकर स्थानीय जिम्मेदारो की उदासीनता का परिणाम है कि अवैध बालू और मिट्टी खनन पर अंकुश लगाने में स्थानीय प्रशासन फेल दिख रहा वही खनन माफिया की बात करे तो जब सैंया भये कोतवाल तब डर काहे का की कहावत सटीक बैठती है। वहीं अगर बात करें अवैध खनन पर अंकुश लगाने की तो तस्वीर सच बया कर रही।

तस्वीरों में दिख रही पहियों के निशान से अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस तरह से बड़े पैमाने पर अवैध खनन का काला कारोबार किया जा रहा है। जिससे राजस्व को करोड़ों का चुना लगाया जा रहा है वही पर्यावरण को भी नुकसान पहुंचने की बात से इनकार नही। इसके साथ प्रदेश सरकार व पुलिस अधीक्षक बलरामपुर केशव कुमार और डीएम अरविंद कुमार के द्वारा दिए गए सभी निर्देशों की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है।

आपको बताते चले कि पूरा मामला जनपद बलरामपुर के तुलसीपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत बहने वाले पहाड़ी नाला सीरिया से सटा हुआ ग्राम पंचायत ओडॉझाड़ , सेखुइनिया कला ,रमवापुर का बताया जा रहा है जंहा खनन का अवैध कारोबार चरम पर है।जबकि इससे दो दिन पूर्व पचपेड़वा थाना क्षेत्र में हुए अवैध खनन की खबर पर अबतक जिले के उच्च अधिकारियों का संज्ञान न लेना संशय का विषय है।

About The Author

Post Comment

Comment List

अंतर्राष्ट्रीय

तालिबान ने ये ट्रक इस्लामाबाद के रास्ते भारत भेज दिया, जानकारी पाते ही पकिस्तान में मची खलबली  तालिबान ने ये ट्रक इस्लामाबाद के रास्ते भारत भेज दिया, जानकारी पाते ही पकिस्तान में मची खलबली 
International Desk एक तरफ भारत का डंका पश्चिम से लेकर अमेरिका तक बज रहा। दूसरी तरफ पाकिस्तान को भारत ने...

Online Channel

साहित्य ज्योतिष