एक पेड़ दस पुत्र समान -मुकुंद साव

एक पेड़ दस पुत्र समान -मुकुंद साव

एक पेड़ दस पुत्र समान -मुकुंद साव



 चौपारण हजारीबाग झारखंड :- 


                                           चौपारण प्रखंड  के आज पृथ्वी पर से पेड़ पौधे समाप्त होते जा रहा है,जिसका मुख्य कारण है अंधाधुंध पेड़ो की कटाई,वन समाप्त होते जा रही है,पर्यावरण दूषित हो रहा है,भूक्षरण तेजी से हो रहा है,ऑक्सीजन का ह्रास हो रहा है,हरियाली सिमट चुकी है, पृथ्वी पर घोर संकट आ गया है,उक्त बाते आज वन दिवस के अवसर पर प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सांसद प्रतिनिधि सह पर्यावरण संरक्षण मंच हजारीबाग के संयोजक तथा राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण प्रतिष्ठान हजारीबाग के एक्सक्यूटिव सदस्य मुकुंद साव ने कहा है,

उन्होंने कहा है कि पृथ्वी को इस घोर संकट से बचाने के लिए देश भर के लोग अगर एक -एक पेड़ लगाए तो पृथ्वी को फिर से हरा भरा बनाया जा सकता है,जंगल ईश्वर के द्वारा दिया गया एक उपहार है,जो हमे जीने के लिए ऑक्सीजन देते है,जलवायु परिवर्तन जैसी तमाम समस्याओं से बचाती है,परंतु हम सब पेड़ लगाने के बजाय पेड़ काटे जा रहे है,दुनिया की आधे से ज्यादा वनस्पति,जंतु तथा कीट प्रजातियां जंगलों में पाई जाती है, लेकिन बड़ी तेजी से काटे जा रहे पेड़ो के कारण सभी का जीवन खतरे में पड़ रहा है,

मानव जिस निर्ममता से पेड़ो को काटे जा रहे है,प्रतीत होता है कि आने वाले कुछ वर्षो में जंगल संग्रहालय की वस्तु बनकर रह जाएगा,इसलिए हमें हर हाल में जंगलो को बचाने एवम ज्यादा से ज्यादा पेड़ पौधे लगाने की आवश्यकता है,इसी चीज के लिए जागरूकता फैलाने के लिए प्रतिवर्ष 21मार्च को पूरी दुनिया में वन दिवस मनाया जाता है,पर्यावरण संरक्षण मंच के जिला संयोजक और राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण प्रतिष्ठान के एक्सक्यूटिव सदस्य मुकुंद साव ने हजारीबाग जिला के तमाम वासियों से विनम्र निवेदन किया है अपने परिवार में जितने सदस्य है उतना पेड़ प्रतिवर्ष अगर लगाए तो पूरी धरती पर हरियाली ही हरियाली आ जाएगी,

पर्यावरण दूषित नही होगा,भूक्षरण नही होगा,ऑक्सीजन प्रयाप्त मात्रा में मिलेगा,जड़ी बूटियां मिलेगी,प्रयाप्त मात्रा में फल फूल मिलेंगे,सुखी लकड़ियां मिलेगी,औषधियां मिलेगी,धार्मिक लोगो के लिए भी प्रयाप्त मात्रा में पूज्यनीय पेड़ जैसे आंवला, नीम,पीपल, बड़, आम के पेड़ भी मिलेंगे,लकड़ियां भी काम आएंगी,मुकुंद साव ने कहा कि वन विभाग मृतप्राय सा हो गया है, वन विभाग के भरोसे जंगल बचाया  नहीं जा सकता है और  जंगल लगाया भी नही जा सकता है,इसलिए स्वयं अपनी जिंदगी को खतरा से बचाने के लिए पेड़ पौधे लगाए, जंगल को बचाए।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

अंतर्राष्ट्रीय

तालिबान ने ये ट्रक इस्लामाबाद के रास्ते भारत भेज दिया, जानकारी पाते ही पकिस्तान में मची खलबली  तालिबान ने ये ट्रक इस्लामाबाद के रास्ते भारत भेज दिया, जानकारी पाते ही पकिस्तान में मची खलबली 
International Desk एक तरफ भारत का डंका पश्चिम से लेकर अमेरिका तक बज रहा। दूसरी तरफ पाकिस्तान को भारत ने...

Online Channel

साहित्य ज्योतिष