मुझे  तथ्यहींन और भ्रामक वीडियो बनाकर बदनाम करने का किया जा रहा है प्रयास -अजीत अंजुम 

मुझे  तथ्यहींन और भ्रामक वीडियो बनाकर बदनाम करने का किया जा रहा है प्रयास -अजीत अंजुम 

लखनऊ , उत्तर प्रदेश 

टेलेवीशन के तमाम  समाचार चैनलों से हुंकार भरने वाले वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम के आजकल सोसल मीडिया में माध्यम से अपने विचार लगातार साझा करते आ रहे है और देश के तमाम मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखते है और सरकार की कड़ी आलोचना भी करते है l

अपनी बेबाकी के चलते अब वो कुछ लोगो के निशाने पर आ गए है और अजीत अंजुम पर उनके तमाम विरोधी उनके दुष्प्रचार करते हुए भ्रामक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर लगातार वायरल कर रहे है इसी कड़ी में एक वीडियो को संज्ञान में लेकर अजीत अंजुम ने उनपर कड़ा प्रहार करते हुए उनके कानूनी नोटिस भेजने की बात कर रहे है और साथ ही जिन शब्दों और बातो का जिक्र किया गया है l

उन्होंने उनपर कड़ी आपत्ति भी दर्ज कराई है l  आज उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बेबाक राय साझा किया है l उनकी तरफ से की गयी पोस्ट बिस्तर से नीचे बताई गयी है l   

मेरे बारे में  बेहद घिनौने आरोपों के साथ एक वीडियो बनाया गया है . वीडियो बनाने वाले लोग एक समूह का हिस्सा हैं , जिन्हें मेरे जैसे लोगों का बोलना हज़म नहीं हो रहा है . मेरी आवाज़ बंद नहीं कर पा रहे हैं तो मेरे चेहरे पर झूठे आरोपों की कालिख पोतकर मेरी छवि ख़राब करने में जुट गए हैं . 

No photo description available.

उस वीडियो में गायत्री देवी नाम की महिला बतौर एंकर हैं और कुमार श्रीकांत नाम का कोई शख़्स है . 
दोनों ने मेरे ख़िलाफ़ बेहद घटिया और आपत्तिजनक बातें कहते हुए एक वीडियो अपने चैनल पर अपलोड किया है . ऐसे आरोप लगाए गए हैं , जिनका सच से दूर -दूर तक कोई वास्ता नहीं . 

मैंने वीडियो बनाने वालों को क़ानूनी नोटिस भेज दिया और अब कोर्ट में मुक़दमा लड़ने की तैयारी कर रहा हूँ . 
कोर्ट में उन्हें घसीटने के लिए मुझे जो भी करना पड़ेगा , मैं करुंगा . हज़ारों -लाखों दर्शकों का मुझ पर भरोसा है . उनके दम पर मैं अपनी बात कहता हूँ . उनके दम पर ही ये मुक़दमा भी लड़ूँगा .

 वीडियो बनाने वालों की बातें सुनकर आप समझ जाएँगे कि ये लोग किस विचार और किस पक्ष के हैं . आप मेरी या मेरे विचारों की जितनी आलोचना करना चाहते हैं , करिए . मैं उसकी परवाह नहीं करता लेकिन अगर कोई नीचता की हद तक जाकर मेरी चरित्र हत्या करने की कोशिश करेगा तो जवाब भी दूँगा और मुक़दमा भी लड़ूँगा .

अपनी बात मैंने विस्तार से अपने वीडियो में कह दी है . आप चाहें तो देखकर समझ सकते हैं कि वीडियो बनाने वालों ने कैसे नीचता की हद तक जाकर मेरे ख़िलाफ़ अनाप -शनाप बातें की है . नीचे लिंक भी है . 

1-दावा -मेरा नाम अजीत कुमार झा बताया गया
तथ्य - मेरे परिवार में किसी का सरनेम झा नहीं है
2. दावा -मैं बिहार के भागलपुर का रहने वाला हूँ
तथ्य- मैं आज तक भागलपुर नहीं गया
3. दावा - मैं नोएडा के 146 सेक्टर में करोड़ों के पेंट हाउस में रहता हूँ ।
तथ्य - बिल्कुल ग़लत . मैं नोएडा में नहीं रहता हूँ
4. दावा -पंजाब के किसी आदमी ने मुझे मर्सिडीज़ की एसयूवी गिफ़्ट की
तथ्य -बिल्कुल ग़लत . मेरे पास ऐसी कोई मर्सिडीज़ नहीं है .
दावा -मेरे पास मर्सिडीज़ समेत तीन गाड़ियाँ हैं
तथ्य -बिल्कुल ग़लत . मेरे पास न मर्सिडीज़ है , न तीन गाड़ियाँ
5. दावा -बेगूसराय और भागलपुर में मेरे पास ज़मीनें हैं .
तथ्य -मैं जीवन में आज तक भागलपुर गया ही नहीं . एक इंच भी ज़मीन मेरे या मेरे परिवार के किसी भी सदस्य के पास भागलपुर में नहीं है . बेगूसराय में अगर कुछ है भी तो पुश्तैनी .
6. दावा- नोएडा में तीन फ़्लैट हैं .
तथ्य -मेरे पास नोएडा में एक भी फ़्लैट नहीं है .  पूरे एनसीआर में मेरे पास सिर्फ़ एक फ़्लैट है ,जिसमें मैं रहता हूँ .
7. दावा -मुझे जॉर्ज सोरोस और न्यूज़ क्लिक ने मुझे फंड किया .
तथ्य -मैंने न्यूज़ क्लिक के लिए एक दिन भी न तो काम किया है . न ही कभी फंड लिया . जॉर्ज सोरोस का नाम तो सोशल मीडिया से ही सुना है . मैंने आज तक कहीं से कोई फंड नहीं लिया है .
8. दावा -मुझे हिमाचल और एमपी कवरेज के लिए कांग्रेस ने फंड किया
तथ्य -बिल्कुल बकवास . मुझे यूट्यूब से इतने पैसे मिलते हैं कि मैं अपनी टीम के साथ कवर कर पाता हूँ .
9. दावा -हिमाचल कवरेज के लिए कांग्रेस ने मुझे फंड किया .
तथ्य -मैंने हिमाचल चुनाव कवर ही नहीं किया . फंड की बात बकवास है.
10 दावा -यूपी कवरेज के लिए मुझे समाजवादी पार्टी ने फंड किया
तथ्य - बिल्कुल ग़लत . अब कोर्ट में इन आरोपों को साबित करना होगा .
10. दावा - अभिसार शर्मा ने मेरे चैनल पर शुरु में कुछ वीडियो किए , बाद में मेरे चैनल के लिए काम करना बंद कर दिया ।
तथ्य -अभिसार ने मेरे चैनल पर एक भी वीडियो नहीं किया .
11. दावा - न्यूज़ 24 में एडिटर रहते मैं न्यूज़रुम में शराब पीता था और लड़कियों से सोडा मँगवाता था .
तथ्य - मुझे जानने वाले मेरे दुश्मन भी जानते हैं कि मैं शराब पीता ही नहीं .
और भी बहुत सी बातें कही गई है,  जो बेहद अपमानजनक है . ये न सिर्फ़ मेरी चरित्र हत्या की कोशिश है और उन तमाम महिला एंकर्स और लड़कियों का अपमान है , जिन्होंने मेरे साथ काम किया है .

दूसरे पक्ष से जानकारी लेने का प्रयास किया गया लेकिन उनकी तरफ से कोई भी जानकारी नहीं मिल पायी है अगर उपरोक्त के बारे में अगर आपके पास भी कोई जानकारी है तो आप हमें हमारे मेल  news@swatantraprabhat.com पर भेज सकते है l 

अजीत अंजुम द्वारा जारी किया गया वीडियो जिसमे आप पूरी जानकारी आप समझ सकते है ....

 

 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष