राष्ट्रीय बालिका दिवस के दिन सिधौली थाना क्षेत्र में  बोरे के अंदर बंद तालाब में पड़ा मिला इंटर की छात्रा का शव

काश समय से गुमशुदगी दर्ज कर लेती सिंधौली पुलिस, तो बच सकती थी छात्रा की जान

राष्ट्रीय बालिका दिवस के दिन सिधौली थाना क्षेत्र में  बोरे के अंदर बंद तालाब में पड़ा मिला इंटर की छात्रा का शव

स्वतंत्र प्रभात 

शाहजहांपुर- मंगलवार को एक तरफ जहां स्कूल कॉलेजों में राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया जा रहा था तो वहीं दूसरी तरफ सिधौली थाना क्षेत्र में 15 दिनों से लापता चल रही एक इंटर की छात्रा का तालाब में शव पड़ा होने की चर्चाएं जोरों से थी  योगी सरकार महिला सुरक्षा की बात कर रही है,तो वहीं दूसरी तरफ जनपद की पुलिस सरकार के मंसूबों पर पानी फेरती नजर आ रही है।सिधौली थाना क्षेत्र में 15 दिनों से लापता चल रही एक इंटर की छात्रा का गांव के किनारे गड्ढे में बोरे के अन्दर बंद शव पड़ा मिला है।

KHABAR-1 (17)

बोरे में बंद पड़े शव की सूचना गांव में फैलते ही लोगों में अफरा-तफरी मच गई और जब छात्रा के परिजनों ने मौके पर जाकर देखा तो शव की पहचान 15 दिनों से गायब चल रही छात्रा के रूप में की गई है जो पड़ोस के ही एक इंटर कॉलेज में पढ़ने के लिए घर से जनवरी को निकली थी।दरअसल मामला थाना सिंधौली क्षेत्र के गांव शिवनगरा निवासी छात्रा का शव दिउरिया कल्याणपुर में तालाब किनारे बरामद हुआ है।जोकि जनवरी को अपने घर से पड़ोस के गांव के इंटर कॉलेज को पढ़ने के लिए निकली थी जो इंटर की छात्रा थी और जब वह वापस घर नहीं आई तो उसके परिजनों ने काफी कुछ खोजबीन की और थाना सिधौली एवं पुलिस चौकी के काफी कुछ चक्कर लगाए।

लेकिन परिजनों के मुताबिक उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट तक दर्ज नहीं की गई।गायब हुई छात्रा का लगातार मोबाइल स्विच ऑफ जा रहा था शायद सिंधौली पुलिस समय रहते गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर लेती और मोबाइल लोकेशन के आधार पर छानबीन करती तो छात्रा की जान बच सकती थी।मंगलवार को सुबह बोरे में बंद पड़े शव की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव पीएम के लिए भेज दिया है वहीं अभी तक परिजनों की तरफ से किसी पर कोई आरोप नहीं लगाया गया है।जबकि पुलिस जांच पड़ताल में जुटी हुई है। 

पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं कि छात्रा के परिजनों को पुलिस ने चौकी से थाने तक खूब दौड़ाया तब अंत में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की जो लापरवाही दर्शाती है।इस संबंध में थाना अध्यक्ष सिधौली से फोन संपर्क करना चाहा गया तो उनका फोन नहीं उठ सका।वहीं पुलिस अधीक्षक एस आनन्द ने घटनास्थल का निरीक्षण कर संबंधित को शीघ्र ही घटना के खुलासे के दिशा निर्देश जारी किए हैं।

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel