मथुरा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जनसभा को किया सम्बोधित’

-जयंत चौधरी और हेमा मालिनी ने भी किया सभा को संबोधित

मथुरा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जनसभा को किया सम्बोधित’

मथुरा। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को वृंदावन के प्रियकांत जू मंदिर मैदान पर मथुरा लोकसभा प्रत्याशी हेमा मालिनी के समर्थन में  जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मैं जन्म और धर्म से वैष्णव हूं। पूरे देश में लोकसभा का चुनाव हो रहा है।पहले चरण का मतदान हो चुका है, पहले चरण में कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया है। दूसरे चरण में सपा और कांग्रेस का सूपड़ा साफ करना है। राहुल गांधी मुंह में चांदी की चम्मच लेकर पैदा हुए हैं और नरेंद्र मोदी गरीब के घर में पैदा हुए।
यह दोनों आमने सामने है। नरेंद्र मोदी पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं है। एक ओर थाईलैंड के प्राइवेट द्वीप पर छुट्टियां मनाने वाले राहुल गांधी हैं। दूसरी ओर दीपावली के दिन भी छुट्टी न लेने वाले नरेंद्र मोदी चुनाव लड़ रहे हैं। जनसभा को सांसद प्रत्याशी हेमा मालिनी और रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी ने भी संबोधित किया। जनसभा में मुख्य रूप से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं बृज क्षेत्र प्रभारी संतोष सिंह, राष्ट्रीय अध्यक्ष रालोद जयंत चौधरी, मथुरा जिला प्रभारी अशोक कटारिया, सांसद प्रत्याशी हेमा मालिनी, राज्यसभा सांसद तेजवीर सिंह, कैबिनेट मंत्री चौधरी लक्ष्मीनारायण,

महानगर अध्यक्ष घनश्याम लोधी, जिलाध्यक्ष निर्भय पांडे, लोकसभा प्रभारी श्याम भदौरिया, विधायक श्रीकांत शर्मा, राजेश चौधरी, मेघश्याम सिंह, पूरन प्रकाश, महापौर विनोद अग्रवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष किशन सिंह, भुवन भूषण कमल, क्षेत्रीय महामंत्री नगेंद्र सिकरवार, डॉ देवेंद्र शर्मा, मुकेश खंडेलवाल, रविकांत गर्ग, योगेश नौहवार, रालोद जिलाध्यक्ष राजपाल भरंगर, वीरपाल मलिक, निरंजन धनगर, सुल्तान तरकर, पंकज गुप्ता, मुकेश आर्यबंधु, पूजा चौधरी, मनीषा गुप्ता, संजय गोविल, जनार्दन शर्मा, प्रदीप गोस्वामी, श्याम सिंघल, कुंजबिहारी चतुर्वेदी, अनुराग चतुर्वेदी, यशराज चतुर्वेदी, आदि मौजूद रहे। संचालन महामंत्री सुनील चतुर्वेदी एवं देवेश पाठक ने किया।

जनसभा को संबोधित करते गृहमंत्री अमित शाह।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष