अमृत महोत्सव मे निकाली गई तिरंगा यात्रा

अमृत महोत्सव मे निकाली गई तिरंगा यात्रा

अमृत महोत्सव मे निकाली गई तिरंगा यात्रा


 

करछना/नैनी/प्रयागराज

तिरंगा एवं शोभा यात्रा का शुभारंभ ,  न्यायमूर्ति आर०एल० मेहरोत्रा,इलाहाबाद उच्च न्यायालय के उद्बोधन के पश्चात आरंभ हुआ। अपने उद्बोधन में बताया अमृत महोत्सव समाज के मन में राष्ट्र के प्रति प्रेम एवं स्वाधीनता आंदोलन में बलिदान हुए शहीदों के दिखाए हुए मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करता है।

कहा कि राष्ट्रप्रेम के भाव को प्रत्येक नागरिक को अपने हृदय में बस आना चाहिए और हम सबको अपने भारत भूमि के लिए कुछ ना कुछ कार्य निश्चित रूप से करना चाहिए। इस यात्रा से आज के युवा पीढ़ी को जानने की जरूरत है कि  हमारे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी कौन थे और बहुत से ऐसे भी स्वतंत्रता आंदोलन के सिपाही थे, जिनका नाम किसी कारणवश प्रकाश में नहीं आने दिया गया या नहीं आ पाया। ऐसे लोग के विषय में भी जानने की आवश्यकता है। आज का भारत पूरे ऊर्जा से परिपक्व व परिपूर्ण है उसे अपने देश के  महापुरुषों के बारे में जानने की आवश्यकता है ताकि उनको सही दिशा वह सही मार्ग मिल सके।

कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ राज बिहारी द्वारा किया गया। कार्यक्रम का संचालन अजय सिंह द्वारा किया गया । कार्यक्रम में अतिथियों का परिचय एवं रूपरेखा वेद प्रकाश, संयोजक अमृत महोत्सव समिति द्वारा किया गया।

यात्रा अरेवा फैक्ट्री से निकलकर ए डी ए मोड, मेवा लाल की बगिया से होते हुए नैनी बाजार ,शंकर ढाल, मामा भांजे तलाब,नैनी जेल से होते हुए पुनः अरेवा फैक्ट्री पर आकर समापन किया गया।

इस कार्यक्रम में दशरथ, विजय प्रताप सिंह, सत्य विजय, अजीत, दिनेश, कुलदीप तिवारी, सुरेश अग्रवाल, रामकृष्ण, गुरु प्रकाश राव, राकेश जयसवाल, राजेश, संतोष, सुकृत, अनुज, श्रवण, मनीष अभिषेक, रजनीकांत, विपिन, वेदानन्द , दिलीप केशरवानी, पीयूष रंजन, रमाकांत विश्वकर्मा, दीपू जायसवाल, प्रतिभा राय, कामना सिंह, आशिफ बाबा कुँ विजय प्रताप आदि उपस्थित रहे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel