मिल्कीपुर: बारिश से खेत में गिरी धान की फसल, किसान हुए चिंतित कि बेकार न हो जाए पूरी मेहनत

मिल्कीपुर: बारिश से खेत में गिरी धान की फसल, किसान हुए चिंतित कि बेकार न हो जाए पूरी मेहनत

मिल्कीपुर-अयोध्या।

मिल्कीपुर तहसील क्षेत्र में शुक्रवार की देर रात तेज हवा के साथ जोरदार बारिश हुई। बारिश ने गर्मी से ताे लोगों को राहत दिलाई, लेकिन किसानों की परेशानी बढ़ा दी है।

तेज बारिश के दौरान हवाएं चलने से खेतों में खड़ी धान की फसल बिछ गई है। इससे किसानाें को उत्पादन प्रभावित होने की आशंका सता रही है। वहीं अगर आगे भी बारिश होती है तो दाना बदरंग भी हो जाएगा। इससे किसानों को धान की कीमत भी बेहतर नहीं मिल सकेगी।


तेज हवा के साथ हुई मूसलाधार बारिश से अगेती धान की खेती करने वाले किसानों की धान की फैसले गिर गई है और खेतों में पानी भर गए हैं। 


किसान रामदेव, राजकुमार, राजाराम मौर्या, दीपक कुमार मौर्य, राम सजीवन, शिव प्रसाद, राधेश्याम गुप्ता रामदीन, राम केवल,शिव राम, प्रदीप कुमार, श्याम  पाण्डेय, जगत बहादुर सहित दर्जनों किसानों ने बताया कि खेतों में खड़ी धान की फसल में बाली भी आ चुकी है। इसके चलते अब हरी फसल में वजन अधिक हो गया है। 


शुक्रवार रात को तेज हवा के साथ जोरदार बारिश हुई। इसके चलते पहले से ही बाली से लदी धान की फसल खेतों में ही बिछ गई है। किसानों ने कहा कि धान में जब बालियां आ रही थी तब भी मूसलाधार बारिश हुई थी। तभी काफी नुकसान हुआ अब धान की फैसले खेत में तैयार हो गई ज्यादा से ज्यादा एक सप्ताह में धान की कटाई करनी थी।


 लेकिन उससे पहले तेज हवा के साथ हुई बारिश से धान की तैयार फसलें खेतों में बिछ गई है। पानी निकासी की व्यवस्था की जा रही है लेकिन खेतों में चारों ओर पानी ही भरा है यदि पानी समय से नहीं निकला जाएगा तो बालिया अंकुरित भी हो जाने का खतरा बढ़ गया है l

अभी मौसम भी साफ नहीं दिखाई पड़ रहा है। कृषि विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक सीताराम मिश्रा ने बताया कि आगामी 24 घंटे में पूर्वी उत्तर प्रदेश में हल्के मध्य बादल छाए रहने के साथ-साथ 53.6 मि0मी0 वर्षा होने का अनुमान है।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

राज्य

बगीचे में लटकता मिला युवक का शव, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम को भेजा
प्रतिबंधित थर्माकोल प्लेट से भारी पिकअप प्रवर्तन दल ने पकड़ा
गोमती नदी में नहाते वक्त दो किशोर डूबे, हुई मौत पुलिस ने शव को बरामद कर परिजनों को सौंपा 
राज्य में पड़ रहे भीषण गर्मी को देखते हुए झारखंड में 15 जून तक सभी स्कूल रहेंगे बंद, आदेश जारी
मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन  ने राज्य में विधि- व्यवस्था  और अपराध -उग्रवाद नियंत्रण को लेकर वरीय  पदाधिकारियों की उपस्थिति में जिलों के उपायुक्त एवं वरीय पुलिस अधीक्षक/ पुलिस अधीक्षक के साथ की उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक, दिए कई अहम निर्देश

साहित्य ज्योतिष

संजीव-नी।
संजीव-नीl
संजीव-नी।
संजीव-नी।
संजीवनी।