अयोध्या में 4 वर्ग किमी. बढ़ा वन क्षेत्र, बीते वर्ष वन विभाग ने रोपित किए थे 16 लाख पौध, 85 प्रतिशत सुरक्षित

अयोध्या में 4 वर्ग किमी. बढ़ा वन क्षेत्र, बीते वर्ष वन विभाग ने रोपित किए थे 16 लाख पौध, 85 प्रतिशत सुरक्षित

स्वतंत्र प्रभात 
 
मिल्कीपुर, अयोध्या। जिले में पर्यावरण की दृष्टि से अच्छी खबर है। वन क्षेत्र में करीब 4 वर्ग किमी. की बढ़ोतरी दर्ज हुई है । यहां हरियाली बढ़ाने के पीछे वन विभाग के अफसर सरयू और गोमती जैसी नदियों की वजह से बेहतर जलवायु को मानते हैं।
फॉरेस्ट सर्वे आफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक अयोध्या जिले का कुल भौगोलिक क्षेत्र 2341 वर्ग किमी. है। वर्ष 2011 की गणना के अनुसार यहां की कुल जनसंख्या 24 लाख 70 हजार 996 है। कुल वन्य क्षेत्र 86 वर्ग किमी है। इसमें एक घना जंगल 6 वर्ग किमी. व मध्यम घना वन क्षेत्र 10 वर्ग किमी. है। खुला वन क्षेत्र 70 किमी है रिपोर्ट में कहा गया है कि अयोध्या जिले में 4 वर्ग किमी. वन  क्षेत्र बढ़ा है। प्रभागीय वन अधिकारी अयोध्या शीतांशु पाण्डेय का कहना है कि यह परिणाम 5 साल में हुए कुल करीब 8000 हेक्टेयर पौधरोपण का परिणाम है। हर साल डेढ़ हजार हेक्टेयर पौधरोपण का औसत है। एक वर्ग किमी में 100 हेक्टेयर होता है। ऐसे में सारे नुकसान के  बाद भी वन्य क्षेत्र में वृद्धि हुई है। सरयू और गोमती जैसी नदियों के कारण जलवायु अनुकूल है। डीएफओ के मुताबिक बीते वर्ष वन विभाग की ओर वर्षा ऋतु में 16 लाख पौधे रोपित किए गए थे। सही देखभाल के चलते इनमें से करीब 85 प्रतिशत पौधे सुरक्षित हैं। बताया कि इस वर्ष भी विभाग द्वारा 16.25 लाख पौधे रोपित करने की योजना है सारी तैयारियां लगभग लगभग पूर्ण कर ली गई है। उन्होंने बताया कि आम अमरूद, जामुन ,सहजन, शीशम, सांगवान बरगद पीपल सहित छायादार, शोभाकार वृक्ष रोपित किए जाएंगे।

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel