कुशीनगर ...और जब डीएम और सीडीओ की बांसी नदी जलकुंभी सफाई देख कूद पड़े श्रमदानी

जानिए : यूपी बिहार का बटवारा प्रकृति ने किया एक बांसी नदी दो राज्य के आधे आधे हिस्से लेकर बहती हैं 

कुशीनगर ...और जब डीएम और सीडीओ की बांसी नदी जलकुंभी सफाई देख कूद पड़े श्रमदानी

जब सफाई करते मिला अदभुत कछुआ तो डीपीआरओ राहुल यादव बीडीओ सुशील कुमार सिंह ने देखकर वापस नदी में छुड़वाया

कुशीनगर (स्वतंत्र प्रभात)।भारत में खुशियां छाई हैं नया नव वर्ष हमारा आया हैं इस उत्साह उमंग हर्ष के माहौल शुरू हुआ चैत्र नवरात्र के पावन पर्व के अवसर पर उदासी छाई बांसी नदी की जलकुंभी की सफाई व्यवस्था में बुधवार को दरियादिली दिखाते हुए जिला प्रशासन सहित ब्लॉक स्तरीय अधिकारीगण अपने सफाई कर्मचारी के साथ जुट गए।

IMG_20230322_154652

बताते हुए खुशी हो रही हैं कि जो बांसी नदी मुदत्तो से विकास की बाट जोह रही बांसी नदी आज बुधवार को खिलती हुई नजर आ रही है। विकास खंड विशुनपुरा क्षेत्र के ग्राम पंचायत जटहां बाजार शिव मंदिर के बांसी नदी के पास पडरौना एवं विशुनपुरा ब्लॉक के अधिगण अपने सैकड़ों सफाई कर्मचारी लेकर मौजूद रहे। इस अभियान को सकारात्मक ऊर्जा लिए जिलाधिकारी रमेश रंजन सीडीओ गुंजन द्विवेदी डीपीआरओ राहुल यादव पहुंचे और डीएम ने नारियां फोड़कर गंगा मईया को चढ़ाया और फौरन बांसी नदी में घुसकर नदी की जलकुंभी की सफाई करना शुरू किए तो इनके साथ पहुंची सीडीओ भी घुसकर सफाई शुरू की तो फिर क्या कहना जिलेभर के आए अधिकारी कर्मचारी सफाई व्यवस्था पर टूट पड़े और श्रमदान का कीमत चुकाना शुरू कर दिए। इस क्रम में डीपीआरओ अभय यादव डीसी मनरेगा राकेश बीडीओ सुशील कुमार सिंह एडीओ पंचायत भगवंत कुशवाहा पडरौना एडीओ रामबेलश गोंड विशुनपुरा ब्लाक टीए सुनिल कुमार गुप्ता, सुबास सिंह सिंह एपीओ प्रवीण कुमार सिंह ,अमित गुप्त भाजपा मण्डल अध्यक्ष राधेश्याम गुप्ता, उपाध्यक्ष श्रीकांत जायसवाल, ग्राम प्रधान मोहन कुशवाहा एकवनही महिला ग्राम प्रधान उगनी देवी विद्यालय प्रबंध मनोज विश्वकर्मा सहित उपस्थित ग्रामीण श्रमदान के रूप में सफाई में लग गए। इस प्रकार कुंदन चौरसिया के उड़ते ड्रोन कैमरा की नजर गड़ी रही। आज बांसी नदी की भलाई और कल्याण के लिए जिस प्रकार आला अफसर बांसी नदी के कीचड़ और जलकुंभी में घुसकर जो योगदान दिया वह कभी भुलाया नहीं जा सकता है डीएम और सीडीओ को अन्य बांसी नदियों की हो रही सफाई अस्थल पर जाना था इसलिए वह दूसरे जगह पहुंचकर बांसी नदी सफाई का निरीक्षण करने पहुंच गया है इधर डीपीआरओ बीडीओ डीसी मनरेगा टीए एपीओ की टीम लगातार अपडेट रहते हुए देर शाम तक बांसी नदी की सफारी कार्य में पूरी लगन और मेहनत ईमानदारी का परिचय दिया जिनकी मेहनत रंग लाई और बांसी नदी की विधिवत सफाई हुई।

IMG_20230322_153349

बांसी नदी में सफाई करते डीएम से प्रेस के पूछे गए सफाई अभियान के संदर्भ में जिलाधिकारी रमेश रंजन ने पौराणिक महत्व बताते हुए कहा कि बांसी नदी जो कहा जाता हैं सौ काशी तो एक बांसी में स्नानदान से मनुष्य का जीवन धन्य हो जाता हैं। ऐसे में आज बांसी नदी की सफाई व्यवस्था कराया जा रहा हैं ताकि नदी अपने सामान्य प्रवाह में लौट सके,उन्होंने कहा कि इस कार्य में जन सहयोग के कड़ी की जरूरत हैं समाज को आगे आने और श्रमदान करने से बांसी नदी के साथ शिव मंदिर की भी सूरत बदलेगी। इस क्रम में आज नारायणी बांसी गंगा की उद्गम स्थान जटहां बाजार शिव मंदिर से सिंगापट्टी तक सात स्थानों पर 500– 500 मीटर बांसी नदी की सफाई कार्य आरंभ हुआ।

 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel