बिना बिजली से चलेगी वाशिंग मशीन, इंजीनियर प्वाइंट्स ऑफ लाइट अवार्ड' से हुए सम्मानित

बिना बिजली से चलेगी वाशिंग मशीन, इंजीनियर प्वाइंट्स ऑफ लाइट अवार्ड' से हुए सम्मानित

स्वतंत्र प्रभात।

दुनियाभर में कम आय वाले समूहों के लिए बिजली की बचत करने में सक्षम वाशिंग मशीन बनाने वाले ब्रिटिश सिख इंजीनियर को प्रधानमंत्री ऋषि सुनक के ‘प्वाइंट्स ऑफ लाइट अवार्ड' से सम्मानित किया गया है। करीब चार साल पहले अपनी वाशिंग मशीन परियोजना तैयार करने वाले नवजोत साहनी को हाथ से चलने वाली मशीन बनाने के लिए सम्मानित किया गया है जिसे बिना बिजली के चलाया जा सकता है।

साहनी ने इस महीने की शुरुआत में सुनक से सम्मानित होने के अनुभव को अकल्पनीय बताया। सुनक ने साहनी को लिखे पत्र में कहा, ‘‘आपने दुनियाभर में हजारों लोगों की मदद के लिए इंजीनियर के रूप में अपने पेशेवर कौशल का इस्तेमाल किया है जो बिजली से चलने वाली वाशिंग मशीन का खर्च नहीं उठा सकते।'' वैक्यूम क्लीनर के लिए मशहूर कंपनी डायसन में काम कर चुके साहनी वंचित वर्गों के जीवन को गुणवत्तापूर्ण बनाने के लिए अपने कौशल का उपयोग करना चाहते हैं।

लंदन में जन्मे साहनी ने कहा, ‘‘प्वाइंट्स ऑफ लाइट पुरस्कार प्राप्त करना और प्रधानमंत्री द्वारा सम्मानित किया जाना विशेष उपलब्धि है।'' ब्रिटेन के प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार इस वाशिंग मशीन ने ऐसे 1,000 से अधिक परिवारों को लाभान्वित किया है जो कम विकसित देशों या शरणार्थी शिविरों में रहते हैं और जिन्हें बिजली से चलने वाली वाशिंग मशीन का लाभ नहीं मिल पाता। 

 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel