ईमाम अली का पुरवा जगदीसवापुर रो रहा है अपनी बदहाली के आसू बारिश बनी कच्चे मकानों वा कच्चे रास्तों के लिए आफत

ईमाम अली का पुरवा जगदीसवापुर रो रहा है अपनी बदहाली के आसू बारिश बनी कच्चे मकानों वा कच्चे रास्तों के लिए आफत

ईमाम अली का पुरवा जगदीसवापुर रो रहा है अपनी बदहाली के आसू बारिश बनी कच्चे मकानों वा कच्चे रास्तों के लिए आफत



                                        

समीर अहमद  


सुबेहा बाराबंकी के विकास खण्ड हैदरगढ़ मौजा सिधियावा में ईमाम अली का पुरवा व जगदीसवापुर मेहदिया है दो दिनों से हो रही भारी बारिश अब गरीबों के लिए आफत बनने लगी है। व गांवों में जल भराव होने से कच्चे मकान गिरने की संभावना हैं। बुधवार की रात से हो रही रुक-रुक कर बारिश अब गरीबों के लिए आफत बनने लगी है।

गांवों में जलभराव होने से कच्चे मकानो में रहने वाले डर डर कर दूसरो के घर जाकर रहने लगे हैं ग्राम प्रधान हेमलता सिंह जो एक महिला है तथा प्रधानी का पूरा काम उनके पति विक्रम सिंह देखते है नाला खुदाई के नाम पर 2020,2021 में बिना नाला खुदाई करवाए लगभग 5 लाख रुपए निकाल लिए  7 साल में कोई ऐसा कार्य नहीं किया

 जिससे जनता खुश हो ईमाम अली का पुरवा में साजिद अली के घर से लेकर पूरे गांव में जल भराव है यही हाल जगदीसवापुर गांव का है नाला खुदाई  हुई है लेकिन सिर्फ कागजों पर। मौके पर कोई काम नही हुआ और पैसा ग्राम प्रधान वा ग्राम विकास अधिकारी ने मिल कर बंदर बाट कर लिया है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष