बीएसए के जांच में वायरल वीडियो निकला फर्जी

बीएसए के जांच में वायरल वीडियो निकला फर्जी

दोपहर 2 बजे के करीब दो लड़के प्राथमिक विद्यालय टीकर में स्विफ्ट कार से प्रवेश किये।


स्वतंत्र प्रभात

चौक, महराजगंज। चौक थाना क्षेत्र के एक प्राथमिक विद्यालय में सहायक अध्यापक द्वारा बच्चो के नृत्य कराने का वीडियो वायरल होने की सूचना पर विद्यालय पर जांच करने पहुचे बीएसए के जांच में वायरल वीडियो फर्जी निकला। निष्पक्ष जांच के बाद वीडियो फर्जी पाए जाने पर अध्यापक एवं अभिभावकों में खुशी की लहर दौड़ गई है। विद्यालय के प्रधानाचार्य राघवेंद्र पटेल ने बताया कि मंगलवार की दोपहर 2 बजे के करीब दो लड़के प्राथमिक विद्यालय टीकर में स्विफ्ट कार से प्रवेश किये।

 उस समय विद्यालय में शासन द्वारा संचालित कला एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के तहत बच्चों को ऑडियो के मध्यम से जानकारी दी जा रही थी। किसी पोर्टल का धौंस देते हुए दोनों युवक सहायक अध्यापक से एक वीडियो बनाने की बात करने लगे। वीडियो बनाने के बाद दिनों युवक अध्यापक को ब्लैकमेल करने लगे।


 जब बात नहीं बनी तो बनाये हुए वीडियो को फर्जी ढंग से एडिट करते हुए सोशल मीडिया पर डाल दिए। जिसकी जांच बीएसए नें शनिवार को विद्यालय में आकर किया। जिसमे वीडियो फर्जी साबित हो गया है। बीएसए ओमप्रकाश यादव नें बताया कि कथित नृत्य के वीडियो में कुछ भी आपत्ति जनक नहीं मिला है। इस मौके पर प्रधानाध्यापक राघवेंद्र पटेल, शशिलता पांडेय, सहायक अध्यापक वाजिद अली आदि मौजूद रहे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel