पैतृक सम्पति में हिस्सा न पाने की रंजीश की वजह से बेटे ने ही की थी पिता का हत्या /

पैतृक सम्पति में हिस्सा न पाने की रंजीश की वजह से बेटे ने ही की थी पिता का हत्या / पवन जयसवाल (ब्यूरो चीफ ) मिर्जापुर । उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जनपद मे बीते 29 अगस्त को थाना अहरौरा के खाजगीपुर गांव में रामवृक्ष पटेल 55 वर्ष की धारदार हथियार से प्रहार कर हत्या कर

पैतृक सम्पति में हिस्सा न पाने की रंजीश की वजह से बेटे ने ही की थी पिता का हत्या /

पवन जयसवाल (ब्यूरो चीफ )

मिर्जापुर ।

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जनपद मे बीते 29 अगस्त को थाना अहरौरा के खाजगीपुर गांव में रामवृक्ष पटेल 55 वर्ष की धारदार हथियार से प्रहार कर हत्या कर दी गयी थी। जिसके संबंध में मृतक की पत्नी बिन्दो देवी की तहरीर के आधार पर थाना अहरौरा पर अपराध संख्या-145/2020 धारा 302 आईपीसी बनाम 2 अज्ञात अभियुक्तगण के पंजीकृत किया गया था।

विवेचना व भौतिक साक्ष्यों व पतारसी सुरागरसी से यह ज्ञात हुआ कि उक्त घटना में परिवार के किसी सदस्य का आपराधिक कृत्य है, साक्ष्यों के प्रमाणित होने पर कि मृतक के पुत्र जयहिन्द पटेल उर्फ दादा ने ही अपने साथी अजीत कुमार मौर्या के साथ मिलकर पिता की हत्या, पैतृक सम्पति में हिस्सा न पाने की रंजीश की वजह से ही की है।

पैतृक सम्पति में हिस्सा न पाने की रंजीश की वजह से बेटे ने ही की थी पिता का हत्या /

आज दिनांक 31.08.2020 को समय 08.15 बजे अभियुक्त जयहिन्द पटेल व अजीत कुमार मौर्य को आनन्दीपुर तिराहे से गिरफ्तार कर जयहिन्द की निशानदेही पर घर के कमरे में से ही लकड़ी के पाटन के उपर छुपा कर रखे गये आलाकत्ल लोहे के रम्मे को बरामद किया गया।

पैतृक सम्पति में हिस्सा न पाने की रंजीश की वजह से बेटे ने ही की थी पिता का हत्या /

अभियुक्तगण से घटना के संबंध में पूछताछ की गयी तो घटना कारित करने के बारे में जयहिन्द पटेल ने बताया कि मै मृतक का छोटा पुत्र हु बाहर काम करता था पर नशे की वजह से मै अपने पिता से अपना हिस्सा मांग रहा था, पर नशेड़ी होने के कारण मेरे पिता रामवृक्ष पटेल बटवारा नही करना चाहते थे जिससे मुझे काफी रंज था

पैतृक सम्पति में हिस्सा न पाने की रंजीश की वजह से बेटे ने ही की थी पिता का हत्या /

इस पर मै अपने मित्र अजीत कुमार मौर्या के साथ मिलकर हत्या का योजना बनाया क्योकि उनके जीवित रहते हिस्सा मिलना मुश्किल था अत: घटना की रात्रि रम्मा से अपने मित्र के साथ मिलकर अपने पिता की रात में ट्यूबेल पर सोते समय हत्या कर दी और अपने पुश्तैनी घर मे आकर रम्मा पाटन पर छुपा दिया,

मेरी मां बिन्दो देवी को मेरा मित्र अजीत मौर्या गले से पकड़े हुए था और मुंह को हाथ से दबाये हुए था, अभियुक्त द्वारा हत्या करना स्वीकार किया जा रहा है।
गिरफ्तारी व बरामदगी करने वाली टीम में
थाना अहरौरा पुलिस टीम से थानाध्यक्ष राजेश जी चौबे थाना अहरौरा, उनि वीरेन्द्र सिंह, कां भानू प्रताप यादव, कां सतीश पाल, कां मनीष सिंह,

पैतृक सम्पति में हिस्सा न पाने की रंजीश की वजह से बेटे ने ही की थी पिता का हत्या /

स्वाट / सर्विलांस टीम से उनि रामस्वरूप वर्मा प्रभारी स्वाट टीम, कां बृजेश सिंह, कां विरेन्द्र सरोज, कां राज सिंह राणा, कां राजेश यादव, कां रविसेन सिंह, कां संदीप राय, कां नितिल सिंह और एस0ओ0जी0 टीम से उनि जयदीप सिंह, कां लालजी यादव, कां अजय यादव, कां मनीष सिंह एस0ओ0जी0 टीम शामिल रहे। एसपी द्वारा घटना का अनावरण कर गिरफ्तारी व बरामदगी करने वाली पुलिस टीम को ₹ 10000/- के पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel