लापता नाबालिग छात्रा की हत्या में पानी में डूबने की हुई पुष्टि ।

दोबारा पोस्टमार्टम हेतु सड़क पर उतरे ग्रामीण । ए •के • फारूखी ( रिपोर्टर ) ज्ञानपुर,भदोही । स्थानीय कोतवाली क्षेत्र के तुलसीचक गांव में बीते दिनों घर से पशु चराने गई नाबालिग छात्रा की हत्या के मामले में पुलिस ने शक के आधार पर कुछ आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस सभागार में पत्रकारों से

दोबारा पोस्टमार्टम हेतु सड़क पर उतरे ग्रामीण ।

ए •के • फारूखी ( रिपोर्टर )

ज्ञानपुर,भदोही ।

स्थानीय कोतवाली क्षेत्र के तुलसीचक गांव में बीते दिनों घर से पशु चराने गई नाबालिग छात्रा की हत्या के मामले में पुलिस ने शक के आधार पर कुछ आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस सभागार में पत्रकारों से बातचीत के दौरान पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने कहा आईपीसी की धारा के तहत 302 के तहत केस दर्ज कर लिया गया है

और पीड़िता के शव को परीक्षण हेतु दोबारा पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। शहर कोतवाली के तुलसी -चक इलाके से 17 अगस्त को घर से गायब नाबालिक छात्रा की बुधवार को सुबह जले अवस्था में छात्रा का शव मिला। छात्रा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पानी से डूबने से हुई मौत की पुष्टि हुई है।

जबकि दुष्कर्म की पुष्टि न होने पर एसपी ने दोबारा मेडिकल परीक्षण की कार्रवाई कराने की बात कही है। इधर पुलिस ने उन लोगों को हिरासत में ले लिया है जिस पर पीड़िता के माता-पिता ने संदेह जताया था । इस घटना को लेकर लोगों में गुस्सा है।

गुरुवार को शव परीक्षण के बावजूद दूसरे दिन भी लोगों ने छात्रा के संग दुष्कर्म का संदेह जताते हुए पोस्टमार्टम हाउस पर आरोपियों का खुलासा करने व कठोर सजा देने की मांग को लेकर सड़क जाम कर दिया।इस बीच भारी संख्या में पुलिस बल क्षेत्राधिकारी सहित मौके पर पहुंच गई।

लापता नाबालिग छात्रा की हत्या में पानी में डूबने की हुई पुष्टि ।

उच्चाधिकारियों से बात कर के पूर्व विधायक भदोही जाहिद बेग और पूर्व ब्लाक प्रमुख भदोही विकास यादव के अगुवाई में भारी संख्या में ग्रामीणों ने दोषी आरोपियों को सख्त सजा दिलाने की मांग की।इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह के मुताबिक छात्रा के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सीधे-सीधे पानी में डूबने के चलते हत्या की पुष्टि हुई है

वहीं इस मामले को लेकर गुरुवार को पोस्टमार्टम हाउस मार्ग पर लगभग 5 सौ लोगों ने आरोपियों की गिरफ्तारी को मांग को लेकर धरना दिया। लोगों के प्रदर्शन के दौरान भारी संख्या में पुलिस बल तैनात हो गई।

वहीं आवागमन पूर्ण रूप से बाधित रहा और जाम की स्थिति बनी रही पुलिस अधीक्षक ने बताया कि लोगों को हिरासत में ले लिया जा चुका है। और उनसे पूछताछ चल रही है। लोगों ने आर्थिक तौर पर पिछड़े होने के कारण माता-पिता को सरकार के प्रस्ताव पर भी विचार करने के साथ-साथ समुचित कार्यवाही किए जाने की मांग की है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट। राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट।
        स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को निजी संपत्ति को "सार्वजनिक उद्देश्य" के लिए राज्य के मनमाने अधिग्रहण

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel