स्थानीय गोताखोरों की मदद से तीनों शव बरामद

स्थानीय गोताखोरों की मदद से तीनों शव बरामद

पुलिस अधीक्षक ने स्थानीय गोताखोरों की ली मदद 14 घंटो के अथक प्रयास के बाद मिली सफलता खागा/फतेहपुर, किशनपुर थाना क्षेत्र के संगोलीपुर मडैयन घाट पर शनिवार शाम हुए हादसे के बाद से एनडीआरएफ की टीम बराबर शवों को खोजने में डटी हुई थी , लेकिन अथक प्रयासों के बाद भी प्रशासन को देर रात

 
पुलिस अधीक्षक ने स्थानीय गोताखोरों की ली मदद

 
14 घंटो के अथक प्रयास के बाद मिली सफलता  


खागा/फतेहपुर, किशनपुर थाना क्षेत्र के संगोलीपुर मडैयन घाट पर शनिवार शाम हुए हादसे के बाद से एनडीआरएफ की टीम बराबर शवों को खोजने में डटी हुई थी , लेकिन अथक प्रयासों के बाद भी प्रशासन को देर रात तक सफलता नही मिली ,पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा के आदेश पर रात्रि में  आपरेशन को रोक दिया गया , भोर पहर पुनः  एनडीआरएफ की टीम व  फतेहपुर की एक टीम मोटर बोट के साथ यमुना नदी में लापता पुलिस कर्मियों व नाविक की खोज में जुट गए ,एनडीआरएफ की टीम ने  पुलिस कर्मियों के जूते बरामद किए ।

पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में मिशन चल रहा था , उसी दौरान स्थानीय गोताखोरों ने  लापता शवों को खोजने के लिए  प्रशासन से अनुमति मांगी , स्थानीय पुलिस ने पुलिस अधीक्षक से स्थानीय गोताखोरों की बात रखी ,जिस पर पुलिस अधीक्षक ने सहमति जताते हुए उन्हें एक घंटे का समय दिया ।आदेश मिलते ही गोताखोरों ने अपना मिशन शुरू कर दिया , मिशन  के 20 मिनट पश्चात स्थानीय गोताखोरों ने  करीब 8 बजकर 40 मिनट पर नाव को खोज निकाला ,

उसके पश्चात लगभग 50 मीटर की दूरी पर  9 बजकर पांच मिनट पर नाविक  का शव भी खोज निकाला ,ताबड़तोड़ बैटिंग करते हुए स्थानीय पुलिस ने 9 बजकर  20  मिनट पर आरक्षी शशि कुमार का शव भी ढूंढ लिया ,उसी के बाद 9 बजकर  40 मिनट स्थानीय गोताखोरों ने   दरोगा रामजीत  का भी  शव भी बरामद कर लिया , पुलिस प्रशासन व क्षेत्रीय लोगों ने स्थानीय गोताखोरों की बहुत सराहना की ।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel