औराई के भमौरा में एक विद्यालय में चार दिन में दुसरी बार चोरी, पुलिस बनी मौन ।

औराई के भमौरा में एक विद्यालय में चार दिन में दुसरी बार चोरी, पुलिस बनी मौन ।

औराई के भमौरा में एक विद्यालय में चार दिन में दुसरी बार चोरी, पुलिस बनी मौन । संतोष तिवारी (रिपोर्टर ) भदोही। जहां सरकार और आम आदमी कोरोना वायरस को लेकर सुरक्षा और बचाव के लिए प्रयासरत है । वही कुछ ऐसे भी लोग है कि इस समय भी अपने कुकृत्यों से बाज नही आते

औराई के भमौरा में एक विद्यालय में चार दिन में दुसरी बार चोरी, पुलिस बनी मौन ।

संतोष तिवारी (रिपोर्टर )

भदोही। जहां सरकार और आम आदमी कोरोना वायरस को लेकर सुरक्षा और बचाव के लिए प्रयासरत है । वही कुछ ऐसे भी लोग है कि इस समय भी अपने कुकृत्यों से बाज नही आते है। और अपने कार्यों को अंजाम दे ही देते है। रविवार को एक ऐसा ही मामला भदोही जिले के औराई थाना क्षेत्र के भमौरा गांव में देखने को मिला जहां चोरों ने बीती रात एक विद्यालय का चार दिन में दूसरी बार ताला तोडकर सोलर पैनल, कुर्सी मेज उठा ले गये और तोड़फोड़ करके बहुत सामान को नुकसान पहुंचा दिये। बीते बुधवार को हुई चोरी में चोर सामान और जरूरी कागजात भी लेकर चपंत हो गये थे। मालूम हो कि भमौरा निवारी आदर्श मिश्र पुत्र प्रभुनाथ मिश्रा अपने गांव में ही नहर के पास ज्ञानदेवी शिक्षण संस्थान नामक एक विद्यालय चलाते है। विद्यालय लाॅक डाऊन की वजह से बंद चल रहे है। इसीलिए आना जाना नही है। यह विद्यालय पांच वर्ष से आठवीं तक मान्यता प्राप्त है। आदर्श को जब विद्यालय में चोरी की घटना की जानकारी हुई तो वे आवाक रह गये। बुधवार की रात हुई चोरी में विद्यालय के कार्यालय का ताला तोडकर चोरों ने विद्यालय में से तीन अग्निशमक यन्त्र, दो सोलर पंखा, एक सोलर बैट्री, कमरों में लगे आठ विद्युत के पंखे, विद्यालय का जरूरी कागजात व कुछ नकद रूपये को भी चोर उठा ले गये थे जबकि शनिवार की रात को चोरों ने सोलर पैनल, कुर्सी, मेज ले गये और जमकर तोड़फोड़ भी की।बुधवार की रात हुई चोरी की जानकारी जब प्रबन्धक आदर्श मिश्रा ने पुलिस को दी तो औराई थानाध्यक्ष रामजी यादव मयफोर्स विद्यालय में पहुंचकर मुआयना किया था और आश्वासन देकर चले गये और और फिर शनिवार की रात को चोरों ने घटना को अंजाम दे दिया लेकिन अभी तक पुलिस ने मुकदमा दर्ज नही किया। जिससे चोरों के हौसले बढे हुए है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel