NEET UG परीक्षा ने तोडा भरोसा, अब होगा क्या?

NEET UG परीक्षा ने तोडा भरोसा, अब होगा क्या?

स्वतंत्र प्रभात। एसडी सेठी।

जहां एक तरफ भारत सरकार के नए  कर्णधार ईमानदारी,सत्य निष्ठा की शपथ ले रहें है, तो वहीं दूसरी ओर सत्य निष्ठा ,कर्तव्य के भारी भरकम शब्दों के नीचे नीट की ली गई परीक्षा के परिणाम को लेकर लेकर सामने आई धांधलियों के बोझ तले दबे लाखों परीक्षार्थी सडकों पर उतर कर न्याय की गुहार लगा रहे हैं।नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के माध्यम से नीट यूजी की परीक्षा को 5 मई,2024 को आयोजित करवाया गया था। लेकिन  बरती गई अनियमितताओं को लेकर दायर जनहित याचिका प्रोफेशनल्स टेस्टिंग एजेंसी से कोलकाता हाई कोर्ट ने जवाब मांगा है। शुक्रवार को मामले की सुनवाई हुई और और इस दौरान यांचि चट्टोपाध्याय के अधिवक्ता सुनील राय की तरफ से यहां पर तर्क भी दिया गया कि कुछ परीक्षार्थी जो कि 720 अंक में से 718 या 719नंबर पाए है,जो कि यह अंक अर्जित कर ही नहीं सकतेहैं।

बता दें कि NEET UG,2024 के नतीजे 4 जून को घोषित कर दिया गया था। 67 परीक्षार्थियो को शीर्ष रैक के तहत  यानि 720 में से 720  पूरे नंबर दे दिए हैं।दूसरी तरफ नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के माध्यम से पैरवी कर रहे भारत के डिप्टी सालिसिटर जनरल धीरज त्रिवेदी व अधिवक्ता तीर्थपति अचार के तरफ से अक्षत अग्रवाल व अन्य बनाम भारत संघ एवं अन्य के मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का यहां पर उल्लेख किया गया,और इसे न्यायोचित ठहराने का पूरा प्रयास किया गया था। दोनों बच्चों की दलीलों को सुनकर जस्टिस कौशिक चंदवार जस्टिस अपूर्व सिंह राय के खंडपीठ के माध्यम से नेशनल टेस्टिंग एजेंसी को 10दिनों के अंदर हलफनामा दाखिल करने का जवाब देने को कहा है।

वहीं विपक्षी पार्टी कांग्रेस से भी यहां की गई नीट में जिस तरीके से धांधली हुई है,सुप्रीमकोर्ट की निगरानी में इसकी पूरी जांच की मांग की है।  कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खडगे की तरफ से एक्स पर पोस्ट करते हुए कहा गया कि पेपर लीक धांधली और भ्रष्टाचारी नेता सहित कई परीक्षाओं में अभिन्न अंग बन गया है।इसकी सीधी जिम्मेदारी वर्तमान सरकार की है।परीक्षार्थियों की मांग है कि कठोर स्तर से इस पर जांच हो और जो भी दोषी हो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए और पुनः एग्जाम कराया जाए। हालांकि दिल्ली हाईकोर्ट में भी इस याचिका को दायर कर दिया गया है।कि उत्तर पुस्तिका में एक प्रश्न के उत्तर यहां पर सही थे। और अधिकारियों ने दो सही विकल्प को अंक देकर निष्पक्षता से समझौता कर लिया है।

जबकि निर्देशन में यहां पर साफ संकेत दिया गया था।केवल एक विकल्पहीन था।याचि ने प्रश्न करने  का फैसला यहां पर किया और 720 में से 633 अंक यानि ने प्राप्त किया।अब याचि का अखिल भारतीय रैंक 44700 के करीब यहां पर था। याचियों  की तरफ से कहा गया कि एक अंक उसकी रैंक को महत्वपूर्ण रूप से बदल दिया है।नीट यूजी का जो एग्जाम जारी हुआ है।रिजल्ट जारी होने के बाद अभ्यार्थी को यकीन ही नहीं हो रहा है कि जब एक प्रश्न 4नंबरों का था तो यहां पर परीक्षार्थियों को 720 में 718  व 719 अंक  हासिल  किया जाना था।लेकिन अभियारथियों ने 718 व 719 अंक पाए है।तो आखिर यह कैसे हो सकता है ? यानि नीट यूजी के रिजल्ट में काफी बडी धांधली इस प्रकार से दिखाई दे रही है। और इसकी निष्पक्ष तरीके से  विपक्षी पार्टियो  ने जांच की मांग की है।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

गुजरात के राज्यपाल पहुंचे कृषि विवि कुमारगंज, कल किसानों को करेंगे संबोधित गुजरात के राज्यपाल पहुंचे कृषि विवि कुमारगंज, कल किसानों को करेंगे संबोधित
मिल्कीपुर ,अयोध्या। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कुमारगंज में  प्राकृतिक खेती संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन शनिवार को किया...

अंतर्राष्ट्रीय

पत्रकार गिउलिया कॉर्टेज़ ने जॉर्जिया मेलोनी पर किया ऐसा कमेंट, केवल 4 फीट की हो, नजर भी नहीं आती, 5 हजार यूरो का फाइन अब देना पड़ेगा पत्रकार गिउलिया कॉर्टेज़ ने जॉर्जिया मेलोनी पर किया ऐसा कमेंट, केवल 4 फीट की हो, नजर भी नहीं आती, 5 हजार यूरो का फाइन अब देना पड़ेगा
International Desk मिलान की एक अदालत ने एक पत्रकार को सोशल मीडिया पोस्ट में इतालवी प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी का मजाक...

Online Channel

साहित्य ज्योतिष

राहु 
संजीव-नी।
संजीव-नी।
संजीवनी।
दैनिक राशिफल 15.07.2024