मानदेय न देने काम न करने का झूठा आरोप लगाकर नोटिस जारी करने पर समूह की महिलाओ में भारी आक्रोश

मानदेय न देने काम न करने का झूठा आरोप लगाकर नोटिस जारी करने पर समूह की महिलाओ में भारी आक्रोश

स्वतंत्र प्रभात
अंबेडकरनगर।जिले के विकास खण्ड जहांगीरगंज अंतर्गत गांवों में बने सामुदायिक शौचालय पर नियुक्त महिला समूह एवं केयर टेकर महिलाओं में ग्राम पंचायत खरूवांव की केयर टेकर को मानदेय न देने और केयर टेकर के काम न करने का झूठा आरोप लगाकर नोटिस जारी करने पर भारी आक्रोश व्याप्त हो रहा है। भुजहवा माता मन्दिर पर जुटी समूह एवं केयर टेकर महिलाओं ने बताया कि खरूवांव की केयर टेकर की नियुक्ति हम सभी लोगों के साथ हुई थी और वह तीन साल से लगातार अपनी ड्यूटी करती चली आ रही है
 
लेकिन गांव की राजनीतिक द्वेष भावना से ग्रस्त ग्राम प्रधान एवं सचिव तीन साल से केयर टेकर रीता निषाद को मानदेय नही दिया केयर टेकर ने जब मानदेय न मिलने की शिकायत जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी से कर दिया तो पहले तो उससे शिकायत वापस लेने का दबाव बनाया गया और जब केयर टेकर ने शिकायत वापस नहीं लिया तो उसको केयर टेकर पद से निकालने की नोटिस सचिव व प्रधान ने जारी कर दिया।
इस बात की लिखित जानकारी केयर टेकर ने मुख्य विकास अधिकारी को दिया तो बीते दिनों मुख्य विकास अधिकारी स्वयं ब्लाक मुख्यालय पर पहुंचकर खरुवांव की केयर टेकर को मानदेय देने के लिए सचिव को फटकार लगाई थी और सचिव से पूछा था कि महिला तीन साल से ड्यूटी नहीं कर रही है क्या तो इसका ज़बाब सचिव के पास नही था इसने मानदेय न मिलने की शिकायत कर दिया तो नोटिस जारी कर रहे हो। मुख्य विकास अधिकारी ने स्पष्ट आदेश दिया था
 
कि केयर टेकर को मानदेय देना सुनिश्चित करें और कोई केयर टेकर हटाई नहीं जाएगी फिर भी सचिव ने मानदेय नहीं दिया बल्कि केयर टेकर के मोबाइल फोन को ब्लाक कर दिया और पुलिस बल भेजकर एवं अन्य तरह से केयर टेकर को परेशान कर रहे हैं । केयर टेकर महिलाओं एवं समूह की महिलाओं ने कहा कि खरूवांव की केयर टेकर के साथ अन्याय हो रहा है जिसे हम लोग बर्दास्त नहीं करेंगे हम लोग सड़क पर धरना प्रदर्शन अनशन शुरू कर देंगे और इस अन्याय के खिलाफ माननीय मुख्यमंत्री जी एवं जिलाधिकारी के साथ मुख्य विकास अधिकारी से मिलेंगे।
 
यदि शासनादेश,मुख्य विकास अधिकारी के आदेश कि बिना मेरी अनुमति के कोई केयर टेकर हटाया नहीं जायेगा का अनुपालन नहीं किया गया और केयर टेकर को शीघ्र मानदेय नहीं दिया गया तो हम लोग धरना प्रदर्शन करने पर मजबूर हो जाएंगे। केयर टेकर महिलाओं ने बताया कि बीते 23अगस्त को महिला समूह की केयर टेकर महिलाओं को ब्लाक मुख्यालय पर खरूवांवा ग्राम प्रधान के दबंग पति एवं उनके साथियों ने मानदेय मांग करने की बात पर ही केयर टेकर महिलाओं को ब्लाक पर दौड़ा दौड़ा कर मारा पीटा था जिसमें दो महिलाओं को गंभीर चोटे आई थी। 
 
जिसका मुकदमा अपराध संख्या 287/23 गंभीर धाराओं में मामला दर्ज है दबंग प्रधान पति के दबाव में सचिव और अन्य कर्मचारी रीता निषाद के ऊपर झूठा आरोप लगा कर नोटिस जारी किया है जिसे ब्लाक मुख्यालय पर आए मुख्य विकास अधिकारी ने केयर टेकर से बात करने के बाद नहीं माना और स्पष्ट आदेश दिया कि केयर टेकर को मानदेय देना सुनिश्चित करें और किसी भी केयर टेकर को हटाया नहीं जायेगा। मुख्य विकास अधिकारी के न्यायपूर्ण आदेश पर सभी केयर टेकर महिलाओं एवं समूह की महिलाओं ने खुशी जताई थी लेकिन दबंग प्रधान पति और सचिव द्वारा जो सामाजिक मानसिक शोषण किया जा रहा है और मानदेय न देकर नौकरी से निकाल देने की धमकी दी जा रही है इसे बर्दास्त नहीं किया जायेगा।
 
खरुवांव ग्राम पंचायत के मां वैष्णो स्वयं सहायता समूह की महिलाओं एवं शौचालय के अगल बगल में रहने वाले लोगों ने बताया कि महिला केयर टेकर लगातार तीन साल से काम कर रही है और केयर टेकर के साथ चुनावी रंजिश बस उत्पीड़न किया जा रहा है। इस मौके पर सरिता,कौशल्या, शीला, रीना, गीता, चंद्रावती, रेखा, विनीता, सुजाता, सुमन, फूलमती, संगीता, किश्मत्ती, पूजा,निशा,भागीरथी, शोभावती, चंदा,नीलम, सीता, सुनीता सहित अन्य तीन दर्जन से अधिक समूह की केयर टेकर महिलाएं मौजूद रही।
 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel