पुलिस महानिरीक्षक आगरा मण्डल दीपक कुमार ने ऑपरेशन जागृति कार्यक्रम में किया जागरूक

जागृति कार्यक्रम को गांव स्तर तक ले जाने के लिये ग्राम प्रधान व बुद्धिजीवियों के साथ मिलकर कार्य करना होगा - आईजी आगरा मण्डल

पुलिस महानिरीक्षक आगरा मण्डल दीपक कुमार ने ऑपरेशन जागृति कार्यक्रम में किया जागरूक

विवेक शर्मा टूण्डला ब्यूरो स्वतंत्र प्रभात

टूण्डला-

 

महिला सशक्तिकरण व लोगों की जागरूकता से ही देश को महान बनाया जा सकता है। इसके लिये हम सभी को धरातल पर आकर कार्य करना होगा तथा  जागृति कार्यक्रम को गांव स्तर तक ले जाने के लिये ग्राम प्रधान व बुद्धिजीवियों के साथ मिलकर कार्य करना होगा। ये बात नगर के वैनीबाल गार्डन में आपरेशन जागृति कार्यक्रम  को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि पुलिस महानिरीक्षक आगरा मण्डल दीपक कुमार ने कही।  


 ऑपरेशन जागृति कार्यक्रम के तहत बेनीवाल गार्डन टूण्डला में कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि आईजी आगरा मंडल आगरा दीपक कुमार ने कहा कि हिंसा बर्दास्त करना भी अपने आप में एक अपराध है इसलिये सभी लोग हिंसा के खिलाफ उठकर खड़े हों जहां भी ऐसी कोई घटना होती है तो उसका खुलकर सामना करें पुलिस प्रशासन इसमें सभी का साथ देगा। सभी को हिंसा मुक्त जीवन जीने का अधिकार है। यदि कोई दबंग किसी को डराता है तो उसकी सूचना पुलिस को दें।

सूचना देने वाले की पहिचान गुप्त रखी जायेगी। उन्होंने बाल यौन शोषण पर बोलते हुए कहा कि सभी लोग इसके प्रति जागरूक होकर इसका खुलकर विरोध करें। यदि किसी स्थान पर ऐसी घटना होती है तो उसकी जानकारी पुलिस को दें। मुख्य अतिथि ने यह भी बताया कि कुछ लोग एक दूसरे को फंसाने के लिये झूठी शिकायतें करते हैं। जिसमें पुलिस को भी परेशानी होती है लेकिन अब उन लोगों को बर्दास्त नहीं किया जायेगा जो झूठी रिपोर्ट लिखाते हैं।

ऐसे लोग सचेत हो जायें क्योंकि जो भी व्यक्ति झूठी शिकायत करेगा और जांच में उसकी शिकायत झूठी पायी गयी तो उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाई की जायेगी। इसमें 6 महीने की सजा व जुर्माना का भी प्रावधान है। इसलिये किसी की भी झूठी रिपोर्ट लिखाने से बचें। यदि झूठी शिकायत से किसी की मानहानि होती है तो उसमें झूठी रिपोर्ट लिखाने वाले के खिलाफ दो वर्ष की जेल व जुर्माना भी लगाया जा सकता है। उन्होंने लोगो से आव्हान किया कि वे समाज हित के कार्यों में आगे आकर पुलिस की मदद करें। जिससे पुलिस अपना कार्य कुशलता के साथ कर सके।


इस कार्यक्रम को ग्रामीण स्तर तक ले जाया जायेगा। यह प्रदेश के मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है। इससे महिलाये तो सशक्त होगी ही साथ ही लोगों को न्याय मिलेगा। ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं को आगे लाकर हथियार बनाते हुए झूठे मुकदमे पंजीकृत कराते हैं जबकि वे निर्दोष होते हैं इस प्रकार की घटनायें रोकने के लिये ही यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है। कार्यक्रम का संचालन एसपी सिटी सर्वेश मिश्रा ने किया।

उन्होंने यह भी बताया कि इस कार्यक्रम की समीक्षा आगामी तीन महीने के बाद की जायेगी और देखा जायेगा कि लोग इस कार्यक्रम से कितने जागरूक हुए हैं। कार्यक्रम में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी, जिला मुख्य विकास अधिकारी दीक्षा जैन, एसपी सिटी सर्वेश मिश्रा, डीपीआरओ फिरोजाबाद, एसडीएम टूण्डला शिवध्यान पांडेय, सीओ टूण्डला अनिवेश कुमार सिंह, अधिशासी अधिकारी आशतोष त्रिपाठी, सीएचसी प्रभारी डाॅ कृति गुप्ता,  के साथ बड़ी संख्या में ग्राम प्रधान, स्वास्थ्य विभाग की आाशा,शिक्षिकाएँ, छात्राएं व गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Tags:  

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

राज्य

बगीचे में लटकता मिला युवक का शव, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम को भेजा
प्रतिबंधित थर्माकोल प्लेट से भारी पिकअप प्रवर्तन दल ने पकड़ा
गोमती नदी में नहाते वक्त दो किशोर डूबे, हुई मौत पुलिस ने शव को बरामद कर परिजनों को सौंपा 
राज्य में पड़ रहे भीषण गर्मी को देखते हुए झारखंड में 15 जून तक सभी स्कूल रहेंगे बंद, आदेश जारी
मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन  ने राज्य में विधि- व्यवस्था  और अपराध -उग्रवाद नियंत्रण को लेकर वरीय  पदाधिकारियों की उपस्थिति में जिलों के उपायुक्त एवं वरीय पुलिस अधीक्षक/ पुलिस अधीक्षक के साथ की उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक, दिए कई अहम निर्देश

साहित्य ज्योतिष

संजीव-नी।
संजीव-नीl
संजीव-नी।
संजीव-नी।
संजीवनी।