पुलिस सब इंस्पेक्टर अनूप मिश्रा अपूर्व और शिक्षिका प्रज्ञा त्रिवेदी का होगा सम्मान

विजयी विश्व भारती रत्न अवार्ड 2023 के लिए हुआ चयन

पुलिस सब इंस्पेक्टर अनूप मिश्रा अपूर्व और शिक्षिका प्रज्ञा त्रिवेदी का होगा सम्मान

स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो उन्नाव

उन्नाव। विजयी विश्व भारती रत्न सम्मान के लिए जनपद उन्नाव से पुलिस सब इंस्पेक्टर अनूप मिश्रा अपूर्व और शिक्षिका प्रज्ञा त्रिवेदी को उनके उत्कृष्ट कार्यों हेतु चयन किया गया है। सामाजिक कार्यों और शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान हेतु

पुलिस सब इंस्पेक्टर अनूप मिश्रा अपूर्व और शिक्षिका  प्रज्ञा त्रिवेदी ने विजयी विश्व भारती रत्न सम्मान के लिए चयनित होकर उन्नाव जिले का नाम रोशन किया है। उत्तर प्रदेश पुलिस में सीनियर सब इंस्पेक्टर के पद पर सेवारत एवम उन्नाव

 पुलिस कंट्रोल रूम में तैनात अनूप मिश्रा अपूर्व गरीब बच्चों में शिक्षा की अलख जगाने वाले "वर्दीधारी मास्टर जी" और पर्यावरण संरक्षण कार्यों हेतु "ट्री मैन" के नाम से अत्यंत लोकप्रिय हैं, वे लगभग 25 वर्षों से  सामाजिक कार्यों में जुटे हैं।

पुलिस ड्यूटी के दायित्व को बाखूबी निभाने के साथ साथ सराहनीय सामाजिक कार्यों के जरिये समाज में खाकी का मान सम्मान बढ़ाने वाले सब इंस्पेक्टर अनूप मिश्रा अपूर्व को वर्ष 2019 में स्वतंत्रता दिवस पर तत्कालीन पुलिस महानिदेशक

उत्तर प्रदेश पुलिस ओ. पी. सिंह द्वारा प्रद्दत प्रशंसा चिन्ह सिल्वर मेडल तत्कालीन अपर पुलिस महानिदेशक पी .ए .सी . मुख्यालय विनोद कुमार सिंह द्वारा प्रदान किया गया था। इसके अलावा महात्मा गांधी सेवा रत्न, सोशल ब्रेवरी, यू पी रत्न,

राष्ट्रीय शौर्य सम्मान, भारत गौरव, नेशनल यूथ आइकॉन अवॉर्ड के साथ ही कई अवॉर्ड से उन्हें नवाजा जा चुका है। गरीब बच्चों को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए अनूप मिश्रा द स्ट्रीट क्लासेस चलाते हैं जिनमें बच्चों को निःशुल्क पढ़ने का अवसर प्राप्त होता है और इन बच्चों को कॉपी, किताब, पेन पेंसिल,

स्लेट, कलर्स, स्कूल बैग्स आदि शिक्षण सामग्री पुलिस सब इंस्पेक्टर अनूप मिश्रा अपने वेतन के पैसों से उपलब्ध करवाते हैं। "राइट टू एजुकेशन" के तहत प्रशासन के सहयोग से उन्होंने अभी तक 10000 से अधिक बच्चों को स्कूल में दाखिला करवाया है।

बेटी पढ़ाओ मुहिम के तहत वे अभावग्रस्त परिवार की 5 बेटियों की शिक्षा का खर्च स्वयं उठाते हैं, जरूरतमंद महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से विभिन्न संस्थाओं के साथ ग्रामीण क्षेत्रों और कच्ची बस्तियों में सिलाई, कढ़ाई,

अचार चटनी मुरब्बा बनाने की कला और कुकिंग आदि के निःशुल्क प्रशिक्षण शिविर आयोजित करते हैं। ट्रीमैन के नाम से मशहूर अनूप मिश्रा द्वारा एक लाख से अधिक पौधे लगाने और सेल्फी विद झोला अभियान के तहत एक लाख से अधिक लोगों को कपड़े या जूट से बने

5_

थैलों को उपयोग में लाने के प्रति जागरूक करने का अनूठा उदाहरण प्रस्तुत किया है । वहीं विजयी विश्व भारती रत्न अवार्ड के लिए चयनित उन्नाव जनपद के उच्च प्राथमिक विद्यालय पाली कंपोजिट बीघापुर की शिक्षिका प्रज्ञा त्रिवेदी को उनके उत्कृष्ट शैक्षिक कार्यों

और नवाचार हेतु "कर्मयोगी शिक्षिका "के रूप में जाना जाता है। शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य हेतु इसी वर्ष शिक्षक दिवस पर उनको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य शिक्षक 2022 पुरुस्कार से सम्मानित भी किया गया है ।

शिक्षिका प्रज्ञा त्रिवेदी ने अपने स्वयं के खर्चे से उच्च प्राथमिक विद्यालय पाली कंपोजिट, बीघापुर में स्मार्ट क्लास की शुरुआत करके बच्चों को रुचिकर शिक्षा देने का अनूठा प्रयास किया है। शिक्षा के साथ साथ वे बच्चों को आत्मनिर्भर बनने का ज्ञान भी दे रही हैं।

नवाचार युक्त शिक्षण, आत्म रक्षा प्रशिक्षण, योगा प्रशिक्षण, व्यवसायिक प्रशिक्षण (सॉस, जैम, धूप बत्ती, साबुन आदि बनाने का प्रशिक्षण), महिला स्वालंबन आदि सरोकार करने वाली शिक्षिका प्रज्ञा त्रिवेदी को एजुकेशन लीडर सम्मान,

उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान, राज्य स्तरीय मतदाता जागरूकता सम्मान, मिशन शक्ति सम्मान, अनंता सम्मान, आयुष योगा सम्मान, आईसीटी प्रतियोगिता पुरस्कार, आदर्श शिक्षक सम्मान, राष्ट्रीय गौरव सम्मान, साउथ एशिया वूमेन अवार्ड, इंस्पायरिंग वूमेन अवॉर्ड पुरस्कार सहित कई  संस्थाओं द्वारा सम्मानित किया जा चुका है।

विजयी विश्व भारती फाउंडेशन द्वारा 21 सितंबर को लखनऊ के बौद्ध शोध प्रेक्षागृह में देश प्रदेश के विभिन्न क्षेत्र में उल्लेखनीय और उत्कृष्ट कार्य करने वाली हस्तियों के साथ पुलिस सब इंस्पेक्टर अनूप मिश्रा अपूर्व और शिक्षिका प्रज्ञा त्रिवेदी को "विजयी विश्व भारती रत्न सम्मान -2023" से सम्मानित किया जाएगा।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

शिक्षाविद् शिवराज यादव को मिला भारत-भूटान समरसता सम्मान, भूटान की राजधानी थिम्पू में हुआ था कार्यक्रम शिक्षाविद् शिवराज यादव को मिला भारत-भूटान समरसता सम्मान, भूटान की राजधानी थिम्पू में हुआ था कार्यक्रम
मिल्कीपुर, अयोध्या। शिक्षाविद् शिवराज यादव को भारत-भूटान समरसता सम्मान से भूटान की राजधानी थिम्पू सम्मानित किया गया। शिवराज यादव परिषदीय...

Online Channel

साहित्य ज्योतिष