राष्ट्रीय लोक अदालत का सफल आयोजन

कुल 50551 वादों का हुआ सफल निस्तारण

राष्ट्रीय लोक अदालत का सफल आयोजन

स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो उन्नाव    

उन्नाव माननीय राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं उ0 प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निर्देशों के अनुपालन में तथा माननीय जनपद न्यायाधीश /अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण उन्नाव,

प्रतिमा श्रीवास्तव के कुशल दिशा निर्देशन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, उन्नाव के द्वारा राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। आज राष्ट्रीय लोक अदालत का शुभारम्भ माननीय जनपद न्यायाधीश /अध्यक्ष,

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण उन्नाव, प्रतिमा श्रीवास्तव द्वारा प्रातः 10:00 बजे जनपद न्यायालय उन्नाव के केन्द्रीय हॉल में दीप प्रज्जवलित कर किया गया। जिसमें प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय जैगम उद्दीन,

अल्पना सक्सेना अपर जिला जज/प्रभारी पीठासीन अधिकारी मोटर दुर्घटना अधिकरण, ममता सिंह अपर जिला जज, अल्पना शुक्ला अपर जिला जज, अनिल कुमार सेठ नोडल अधिकारी राष्ट्रीय लोक अदालत, विवेकानन्द विश्वकर्मा अपर जिला जज, क्षिप्रा आर्या अपर जिला जज,

कुमुदनी वर्मा अध्यक्ष स्थाई लोक अदालत, पूनम-II अपर जिला जज, मनीष निगम अपर जिला जज /सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, उन्नाव, जयवीर सिंह नागर अपर जिला जज एफ. टी. सी. रवि प्रकाश साहू अपर जिला जज एफ. टी. सी. प्रथम,

तथा अन्य सभी सम्मानित अधिकारीगण, अपर जिलाधिकारी (वित्त/राजस्व) अपर पुलिस अधीक्षक, उन्नाव तथा कर्मचारीगण, पराविधिक स्वयंसेवक उपस्थित रहें। राष्ट्रीय लोक अदालत का शुभारम्भ करते हुये जनपद न्यायाधीश द्वारा अधिक से अधिक वाद सुलह समझौते के आधार पर लोक अदालत में निस्तारित किये

जाने का आह्वाहन किया गया। राष्ट्रीय लोक अदालत के आयोजन में जनपद न्यायालय उन्नाव के विभिन्न न्यायालयों के न्यायिक अधिकारीगण द्वारा जिसमें मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण के 25  वाद एवं मोटर दुर्घटना प्रतिकर के वादों में रू. 19965000  प्रतिकर अवार्ड किया गया।

71 वैवाहिक वाद, बैंक रिकवरी    905 वाद का निस्तारण किया गया जिनमें रू. 88332000 धनराशि की अदायगी हेतु तय की गयी, विविध दीवानी 52 वाद,  तथा आपराधिक शमनीय 4965 वाद ,एन.आई. एक्ट के 02 वाद, आरबीट्रेशन के 02 वाद एवं 24  अन्य वाद का निस्तारण किया गया।

राजस्व के 28110, तथा अन्य प्रि-लिटिगेशन के 3827 वाद का निस्तारण किया गया। ई-चलानी यातायात के 14 वाद का निस्तारण किया गया। अन्य प्रि-लिटीगेशन वादों जिसमें विद्युत से सम्बन्धित 11912 मामलों का प्रि-लिटीगेशन के वादों का भी निस्तारण किया गया।

अपर जिला जज / सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा 04 प्रि-लिटिगेशन वाद निस्तारित किये गये, अन्य लघु वाद का विशेष लोक अदालत में कुल  638 वादों का निस्तारण किया गया। इस प्रकार राष्ट्रीय लोक अदालत के आयोजन में कुल   50551 वादों का निस्तारण किया गया।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

शिक्षाविद् शिवराज यादव को मिला भारत-भूटान समरसता सम्मान, भूटान की राजधानी थिम्पू में हुआ था कार्यक्रम शिक्षाविद् शिवराज यादव को मिला भारत-भूटान समरसता सम्मान, भूटान की राजधानी थिम्पू में हुआ था कार्यक्रम
मिल्कीपुर, अयोध्या। शिक्षाविद् शिवराज यादव को भारत-भूटान समरसता सम्मान से भूटान की राजधानी थिम्पू सम्मानित किया गया। शिवराज यादव परिषदीय...

Online Channel

साहित्य ज्योतिष