मारवाड़ी महाविद्यालय रांची के द्वारा फ्रेशर्स व फेयरवेल पार्टी का हुआ आयोजन

फेयरवेल और फ्रेशर पार्टी में छात्र-छात्राओं ने दी शानदार प्रस्तुति

मारवाड़ी महाविद्यालय रांची के द्वारा फ्रेशर्स व फेयरवेल पार्टी का हुआ आयोजन

संवाददाता : हंसराज चौरसिया

मारवाड़ी महाविद्यालय रांची के द्वारा रातु रोड स्थित होटल द कृष्णा इन में फ्रेशर्स व फेयरवेल पार्टी का आयोजन किया गया। इस फ्रेशर्स व फेयरवेल पार्टी में महाविद्यालय के यूजी और पीजी के छात्र व छात्राओं के साथ हिन्दी विभाग के प्रोफेसर उपस्थित हुए। कार्यक्रम में मुख्य रूप से शिक्षिका डॉ स्मिता गहलोत, डॉ सीमा चौधरी, डॉ लता श्री, डॉ ललिता उपस्थित थी ।

इस अवसर पर फेयरवेल स्टूडेंट एवं फ्रेशर स्टूडेंट को चुना गया। इस कार्यक्रम में मिस्टर फेयरवेल के रूप में सुनिल कुमार, मिस फेयरवेल निधि कुमारी, मिस्टर फ्रेशर्स दिनेश कुमार, मिस फ्रेशर्स शबनम कुमारी, बेस्ट क्लास रिप्रेजेंटेटिव ऑफ द पीजी सत्र 2021- 23 राकेश प्रजापति, बेस्ट स्टुडेंट ऑफ द ईयर पीजी सत्र 2021 - 23 उमेश कुमार वा निधि कुमारी चुने गए। इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन कर फेयरवेल और फ्रेशर पार्टी में छात्र-छात्राओं ने शानदार प्रस्तुति दी। 

वही डॉ स्मिता गहलोत ने छात्र व छत्राओं को संबोधित कर कहा कि छात्र अपने कॉन्सेप्ट पर फोकस करेंगे तो कामयाबी कदम चूमेगी। छात्रों को प्रोत्साहित करते हुए आगे बढ़ने की शिक्षा भी दी तथा उनका उत्साहवर्धन किया। 

जबकि डॉ सीमा चौधरी ने कहा कि फ्रेशर पार्टी एक ऐसी पंरम्परा है जिसमें सीनियर छात्र जुनियर छात्रों का स्वागत करते हैं और महाविद्यालय में भाईचारे, मेलजोल और आपसी सौहार्द का महत्व एक-दूसरे को समझाते हैं। भारतीय पंरम्परा में तक्षशिला विश्वविद्यालय से आज तक के विश्वविद्यालयों में इस परम्परा का उत्सुकता के साथ निर्वाह किया जा रहा है, जो समाज को एक मजबूत और उज्जवल भविष्य की नींव रखते हैं।

कार्यक्रम के ऑर्गनाइजर राकेश प्रजापति, उमेश कुमार यादव, शिल्की कुमारी, निधि कुमारी , अंजली कुमारी , हंसराज चौरसिया, कामिनी कुमारी, मोहित पाठक, इशा झा ने कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

भारी संख्या में छात्र कार्यक्रम में रहे मौजूद

कार्यक्रम के मुख्य ऑर्गेनाइजर सदस्य हंसराज चौरसिया व कामिनी कुमारी ने सभी छात्रों तथा शिक्षकों का आभार व्यक्त किया। इस अवसर भारी संख्या में छात्र तथा शिक्षक कार्यक्रम में मौजूद रहे।

Tags:  

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट। राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट।
        स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को निजी संपत्ति को "सार्वजनिक उद्देश्य" के लिए राज्य के मनमाने अधिग्रहण

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel