ड्रोन व मिसाइल आपूर्ति के लिए ईरान से मदद ले सकता है रूस, अमेरिका ने किया दवा 

ड्रोन व मिसाइल आपूर्ति के लिए ईरान से मदद ले सकता है रूस, अमेरिका ने किया दवा 

स्वतंत्र प्रभात 

यूक्रेन में युद्ध के लिए हथियारों की आपूर्ति बनाए रखने में संघर्ष कर रहा मॉस्को अब रूसी सेना को ड्रोन विमानों और सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइलों की आपूर्ति के लिए एक बार फिर ईरान का रुख कर सकता है। घटनाक्रम से वाकिफ राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के अधिकारियों ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि अमेरिका इस बात को लेकर चिंतित है कि रूस आने वाले दिनों में ईरान से उन्नत पारंपरिक हथियार हासिल कर सकता है।

उन्होंने कहा कि अमेरिका विशेष रूप से चिंतित है कि रूसी सेना ईरान से सतह पर सतह पर मार करने वाली मिसाइलें खरीद कर सकता है। इस बीच, संयुक्त राष्ट्र के एक राजनयिक ने कहा कि ईरान ने सुरक्षा परिषद के वर्ष 2015 के प्रस्ताव का उल्लंघन करते हुए रूस को सैकड़ों मिसाइलें और ड्रोन विमान बेचने की योजना बनाई है।

इस प्रस्ताव ने तेहरान और छह प्रमुख विश्व शक्तियों के बीच ईरान के परमाणु कार्यक्रम को लेकर हुए समझौते का समर्थन किया था। राजनयिक के मुताबिक, 2015 के समझौते के हस्ताक्षरकर्ताओं में रूस भी शामिल है। उन्होंने कहा कि रूस द्वारा समझौते के उल्लंघन से कहीं ज्यादा अहम यह सवाल है कि ईरान से ड्रोन और मिसाइल के बदले मॉस्को उसे क्या देगा। 

 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel