विश्व एड्स दिवस पर विधिक जागरूकता शिविर

साथ खाना खाने, हाथ मिलाने, गले लगाने देखभाल करने से आदि से नहीं फैलता।

विश्व एड्स दिवस पर विधिक जागरूकता शिविर

स्वतंत्र प्रभात
 
 
 
उ०प्र० राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ कि कार्ययोजना वर्ष 2022-2023 के क्रियान्वन के क्रम में जनपद न्यायाधीश अध्यक्ष/जिला जज प्रतिमा श्रीवास्तव, के दिशा निर्देश में जिला अस्पताल, उन्नाव में विश्व एड्स दिवस के सम्बन्ध में
 
 
विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन सचिव रघुवंश मणि सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न किया गया। सचिव रघुवंश मणि सिंह द्वारा बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने पहली बार 1987 में विश्व एड्स दिवस मनाया जाना प्रारम्भ किया।
 
 
सम्पूर्ण देशों में 01 दिसम्बर में हर उम्र,हर वर्ग के लोगों को एड्स के प्रति अधिक  से अधिक जागरुक करने के उद्देश्य से विश्व एड्स दिवस मनाया जाता है। विश्व एड्स दिवस 2022 की थीम समानता है इसका अर्थ है कि समाज में फैली हुई
 
 
असमानता को दूर करके एड्स को जड़ से ख़त्म करने की दिशा में मजबूती से कदम बढ़ाना। इस दौरान उन्होंने उपस्थित कर्मचारीगण को कहा कि एचआईवी से ग्रसित रोगियों के प्रति आत्मीयता रखें और उनके साथ मधुर व्यवहार रखे।
 
 
उनके साथ किसी भी प्रकार का भेदभाव न करें। कार्यक्रम में उपस्थित डॉ. विनीत वर्मा, पैथालोजिस्ट द्वारा बताया गया कि एच.आई.वी का संक्रमण मुख्य कारण रक्तधान है। इसमें किसी भी प्रकार की असावधानी नहीं बरतनी चाहिए|
 
 
रक्तदान के समय ही समस्त  एच.आई.वी की जाँच समपन्न करायी जाती है। डॉ.संजीव मुख्य चिकित्सा अधीक्षक द्वारा एच.आई.वी संक्रमण के सम्बन्ध में जागरूकता सम्बन्धी जानकारी दी गयी। तथा ये भी बताया कि पीड़ित रोगी के 
 
 
 
डॉ. पंकज शुक्ला ने एच.आई.वी संक्रमण के फैलाव एवं उससे बचाव के तरीकों के बारे में विस्तार से बताया। उक्त कार्यक्रम में, डॉ. मनीष मिश्रा, राहुल श्रीवास्तव, अमित गुप्ता व आम जन मानस व कर्मचारीगण उपस्थित रहें।
Tags:  

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel