जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे पीड़ितों का अभी तक नहीं दर्ज हो सका मुकदमा

ब्यूरो रिपोर्ट – विवेक पाण्डेयभीटी, अम्बेडकरनगर। स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्रामसभा मदारभारी के मजरे खमपुर में मामूली विवाद को लेकर हुए जानलेवा हमले में 24 घंटे बीत जाने के बाद भी भीटी पुलिस ने अभी तक मुकदमा पंजीकृत नहीं किया है अभी तक पीड़ित को वेट एंड वॉच का आश्वासन दिया जा रहा है जबकि

ब्यूरो रिपोर्ट – विवेक पाण्डेय
भीटी, अम्बेडकरनगर। स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्रामसभा मदारभारी के मजरे खमपुर में मामूली विवाद को लेकर हुए जानलेवा हमले में 24 घंटे बीत जाने के बाद भी भीटी पुलिस ने अभी तक मुकदमा पंजीकृत नहीं किया है अभी तक पीड़ित को वेट एंड वॉच का आश्वासन दिया जा रहा है जबकि पीड़ित अनिल कुमार के परिवार के चार लोग मरणासन्न अवस्था में जिला अस्पताल में भर्ती हैं जो मौत और जिंदगी के बीच जूझ रहे हैं। जिसमें एक महिला की हालत गंभीर बताई जा रही है फिर भी भीटी थाने में अभी तक पीड़ित का मुकदमा दर्ज नही हो सका है बड़ा सवाल आखिर जब इतने गंभीर मामले में भी थानाध्यक्ष के द्वारा मुकदमा नहीं दर्ज किया जा रहा है तो मामूली मारपीट के मामले में कैसे पीड़ित को न्याय मिलेगा।
जानकारी के अनुसार ग्रामसभा मदारभारी के मजरे खमपुर में पीड़ित अपने पुराने दीवाल के ईट को अपने परिवार के साथ उजाड़ रहा था तभी विपक्षी गणो ने लाठी-डंडे ईट पत्थर समेत धारदार हथियार से घर में घुसकर जानलेवा हमला कर दिया था। जिससे पीड़ित अनिल कुमार समेत उसके परिवार के कई सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गए थे सूचना पर पहुंची डायल 112 के पुलिसकर्मियों ने एंबुलेंस बुलाकर गंभीर अवस्था में घायलो को भीटी सीएससी पहुंचाया था। जहां पर घायलों की स्थित नाजुक देख चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया था। पीड़ित अनिल कुमार ने भीटी थाने में महिला समेत छह लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दिया था। लेकिन फिर भी भीटी थानाध्यक्ष ने मुकदमा पंजीकृत नहीं किया है थानाध्यक्ष से वार्ता करने पर बताया कि जांच किया जा रहा है डॉक्टरी के बाद मुकदमा पंजीकृत किया जायेगा।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel