लोकसभा चुनावः अंतरराज्यीय शराब की तस्करी रोकने को खडी की अभेद्य दीवार

-यूपी हरियाणा बोर्डर पर बनाये गये चेक पोस्ट, राजस्थान से कम खतरा

लोकसभा चुनावः अंतरराज्यीय शराब की तस्करी रोकने को खडी की अभेद्य दीवार

स्वतंत्र प्रभात 
मथुरा। लोकसभा चुनाव की तैयारियां जारी हैं। चुनावों की सुचिता सुनिश्चित करने के लिए कार्यवाही तेज कर दी गई है। उत्तर प्रदेश में चुनाव के अवसर पर होने वाली मदक पदार्थों की तस्करी को रोकने के लिए पुख्ता इंतजामात किये गये हैं। खास कर हरियाणा और पंजाब से होने वाली तस्करी को रोकने के िएल इंटरस्टेट पोस्ट बनाये गये हैं। इन पोस्ट पर लगातार संदिग्ध वाहनों की चैकिंग की जा रही है। हरियाणा से लगने वाले कोटवन बार्डर पर चेकपोस्ट बनाई गई है।

इसी तरह हरियाणा की ओर से चेकपोस्ट बना कर लगातार चैकिंग की जा रही है। एजेंसियां समस्य स्थापित कर काम कर रही हैं जिससे कि तस्करी की संभावनाओं को न्यनतम किया जा सके। वहीं राजस्थान की सीमा पर चेकपोस्ट नहीं बनाये गये हैं। इसके पीछे अधिकारियों का तर्क है कि राजस्थान और यूपी में शराब की कीमतें लगभग समान हैं, इस लिए तस्करी की कोशिश नहीं होती है। पकडी जाने वाली तस्करी की अधिकांश शराब हरियाणा और पंजाब से ही आती है। इसी को देखते हुए कोटवन बार्डर पर चेकपोस्ट बनाई गई है।

मथुरा में हर महीने करोडों की शराब पी रहे लोग
ड्राई ऐरिया और पवित्र तीर्थ स्थलों से आच्छादित मथुरा जनपद में बडे हिस्से में मादम पदार्थों की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध है। बावजूद इसके मथुरावासी प्रति महीने करोडों की शराब पी जाते हैं। इससे सरकार को बडे राजस्व की प्राप्ति हो रही है लेकिन लोगों के घर कंगाल हो रहे हैं। जिला आबकारी अधिकारी मथुरा कुमार प्रभात चंद्र ने बताया कि दिसम्बर महीने में शराब से करीब 60 करोड का राजस्व प्राप्त हुआ। जिसमें 31 करोड अंग्रेजी, 19 करोड देशी तथा 09 करोड रोजस्व बीयर से मिला। इसी प्रकार जनवरी महीने में 88 करोड का राजस्व विभाग से सरकार को प्राप्त हुआ। जिसमें 30.62 करोड अंग्रेजी, 17.80 करोड देशी तथा 7.57 करोड बीयर से मिला। बाकी हिस्सा इस महीने दुकानों के अवंटन और दूसरी निधियों का है।

यह हुई है कार्यवाही  
जिला आबकारी अधिकारी मथुरा कुमार प्रभात चंद्र के मुताबिक जनवरी माह में तस्करी कर ले जाई जा रही कुल 831 लीटर शराब जब्त की गई और कुल 44 मामलों में विभिन्न थानों में एफआईआर दर्ज कराई गई हैं। 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया और सात लोगों को जेल भेज दिया गया। वहीं दिसम्बर महीने में जनपद में शराब तस्करी के कुल 42 मिले जिनमें एफआईआर दर्ज कराई गई है। इस दौरान कुल 790 लीटर शराब जब्त की गई। कुल 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया जिनमें से 10 लोगों को जेल भेजा गया। तस्करी में प्रयुक्त किये जा रहे दो वाहनों को भी सीज किया गये थे।    


About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel