बिना किसी रोक-टोक के नेपाल भेजी जा रही मुर्गे की खेप 

---- नेपाल के सहारे सीमावर्ती क्षेत्र में संचालित हो रहा पोल्ट्री फार्म, दिन-रात पोल्ट्री फार्म से बड़े पैमाने पर खुलेआम भेजी जा रही मुर्गे की खेप 

बिना किसी रोक-टोक के नेपाल भेजी जा रही मुर्गे की खेप 

स्वतंत्र प्रभात
महराजगंज।
 
भारत-नेपाल के सीमावर्ती इलाकों से आए दिन बड़े पैमाने पर मुर्गे की तस्करी हो रही है। भारतीय सीमावर्ती फार्मों के सफेद मुर्गे बिना किसी रोक-टोक के आसानी से नेपाल भेजे जा रहे हैं। वहीं नेपाल में भारतीय मुर्गों की आयात पर प्रतिबंध है बावजूद इसके पगडंडी रास्तों से मुर्गों की खेप नेपाल भेजा जा रहा है।
 
बिना किसी रोक-टोक के नेपाल भेजी जा रही मुर्गे की खेप 
 
परसामलिक थाना क्षेत्र के तीन नाके मुर्गा तस्करी को लेकर इन दिनों खासा चर्चा में है। थाना क्षेत्र के सेवतरी, मर्यादपुर, झिंगटी आदि गांवों में पोल्ट्री फार्म मौजूद है जो नेपाल के सहारे संचालित हो रहा है। प्रति पोल्ट्री फार्म से प्रतिदिन सैकड़ों क्विंटल सफेद मुर्गे जिम्मेदारों के नाक के नीचे से नेपाल भेज दिए जा रहे हैं। मुर्गा तस्कर पुलिस चौकी के सामने से ही साइकिल पर मुर्गे को उल्टा लटकाकर ले जाते हैं लेकिन जिम्मेदार सब कुछ देखकर भी अनजान बनते हुए काफी मजबूर दिखाई देते हैं।
 
        यही कारण है कि उक्त गांव के पगडंडियों के रास्ते भारी पैमाने में मुर्गों की खेप नेपाल भेजी जा रही है। उच्चाधिकारियों द्वारा समय-समय पर मुर्गे की खेप के साथ तस्करों को पकड़कर उनके खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम के तहत कार्यवाही की जाती है बावजूद इसके मुर्गे की तस्करी का कारोबार रूकने का नाम नहीं ले रहा है बल्कि आए दिन क्षेत्र से मुर्गे की तस्करी में काफी इजाफा देखा जा सकता है।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel