सपा प्रदेश सचिव बने डॉ माखनलाल यादव, कार्यकर्ताओं में खुशी

सपा प्रदेश सचिव बने डॉ माखनलाल यादव, कार्यकर्ताओं में खुशी

मिल्कीपुर अयोध्या।

समाजवादी पार्टी के कार्यकारी भंग होने के बाद दोबारा कार्यकारिणी का गठन होने पर मिल्कीपुर विधानसभा क्षेत्र के चमैला निवासी सपा नेता डॉ माखनलाल यादव को सपा का प्रदेश सचिव बनाया गया है

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल की ओर से उनको यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंप गई है। मुलायम सिंह यादव ने1989 में मिल्कीपुर विधानसभा क्षेत्र का समाजवादी जनता पार्टी का विधानसभा अध्यक्ष बनाया था।

उस समय मिल्कीपुर में पार्टी का झंडा उठाने वाला कोई नहीं था पार्टी की आवाहन पर वर्ष 1992 में राजभवन का घेराव हुआ था उसमें जेल भी गए थे पार्टी द्वारा जब-जब कार्यक्रम को धरना प्रदर्शन जेल भरो आंदोलन या अन्य कार्यक्रम करने का निर्देश हुआ

जिसमें बढ़-चढ़कर भागीदारी की, वर्ष 2003, 2008, 2011 में पार्टी के आंदोलन में कई दिन जेल में रहे हैं और अनेकों बार जेल गए हैं। समाजवादी युवाजन सभा के जिला अध्यक्ष पद पर व समाजवादी युवा जनसभा के प्रदेश सचिव के पद पर रहकर संगठन के माध्यम से पार्टी को बढ़ाने का कार्य किया फैजाबाद समाजवादी पार्टी के जिला सचिव पद पर कई बार रहकर पार्टी के हर कार्यक्रम को सफल बनाया है,

इतना ही नहीं ग्रामीण क्षेत्र की जनता के बीच में रहकर जन समस्याओं का निस्तारण करना जन समस्याओं को अधिकारियों के समक्ष रखना उसका निदान करना उनकी प्राथमिकता में रहा है।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

राज्य

बगीचे में लटकता मिला युवक का शव, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम को भेजा
प्रतिबंधित थर्माकोल प्लेट से भारी पिकअप प्रवर्तन दल ने पकड़ा
गोमती नदी में नहाते वक्त दो किशोर डूबे, हुई मौत पुलिस ने शव को बरामद कर परिजनों को सौंपा 
राज्य में पड़ रहे भीषण गर्मी को देखते हुए झारखंड में 15 जून तक सभी स्कूल रहेंगे बंद, आदेश जारी
मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन  ने राज्य में विधि- व्यवस्था  और अपराध -उग्रवाद नियंत्रण को लेकर वरीय  पदाधिकारियों की उपस्थिति में जिलों के उपायुक्त एवं वरीय पुलिस अधीक्षक/ पुलिस अधीक्षक के साथ की उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक, दिए कई अहम निर्देश

साहित्य ज्योतिष

संजीव-नी।
संजीव-नीl
संजीव-नी।
संजीव-नी।
संजीवनी।