एक कप कॉफी हो जाए

एक कप कॉफी हो जाए

 

सुबह सुबह एक कप चाय या कॉफी मन को तरोताजा कर देती हैं। वैसे तो आज के समय में ऐसे बहुत कम लोग ही होंगे जिन्हें ऐसे आदत हो। लेकिन कई लोग ऐसे होते है जो सुबह-सुबह चाय या कॉफी का सेवन करने को हेल्थ के लिए नुकसान मानते है। इसलिए कुछ लोग अपने रूटीन से इन चीज़ों को कम देते हैं। डरते हुए कि कहीं उन्हें एसिडिटी  या कोई और समस्या हो जाए। लेकिन एक शोध से पता चला है कि यदि इनका सेवन सही मात्रा में किया जाए तो इसका कोई नुकसान नहीं होता हैं:-

ब्लैक कॉफी के फायदे

ब्लैक कॉफी का सेवन आपको शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से लाभ पहुंचा सकता है। यहां हम इस बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

      वजन को कम करने के लिए

ब्लैक कॉफी का सेवन करके वजन को कम किया जा सकता है। यह कैलोरी को बर्न करने का काम करता है, जिससे फैट कम हो सकता है। यह सब कॉफी में मौजूद कैफीन के कारण ही संभव हो पाता है।

      मधुमेह के लिए

मधुमेह का मुख्य कारण रक्त में शुगर की मात्रा को बढ़ाना है। एक शोध में पाया गया है कि कॉफी के सेवन से रक्त में ग्लूकोज की मात्रा को कम किया जा सकता है। इससे मधुमेह की समस्या से निजात पाया जा सकता है। साथ ही इसमें क्लोरोजेनिक एसिड पाए जाता है, जो एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। मधुमेह में ब्लैक कॉफी पीने का फायदा तभी है, जब इसे बिना शुगर के पिया जाए।

      तनाव से राहत

एक शोध में पाया गया है कि कैफीन के उपयोग से मूड को अच्छा किया जा सकता है। साथ ही यह तनाव को भी दूर करने में मददगार साबित हो सकता है। कॉफी में कैफीन की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो आपके नर्वस सिस्टम को संतुलित करता है। साथ ही मस्तिष्क की कार्यप्रणाली को बेहतर करता है, जिससे तनाव को कम करने में मदद मिलती है। इसलिए, ऐसा माना जा सकता है कि ब्लैक कॉफी के फायदे तनाव से मुक्ति पाने के लिए भी हैं।

      दिमाग के लिए

कॉफी का सेवन आपके दिमाग के लिए अधिक फायदेमंद हो सकता है। कॉफी में पाए जाने वाले कैफीन एकाग्रता बनाए रखने में सहायक होते हैं। साथ ही यह मानसिक तनाव को भी दूर करने का भी काम करता है। इसलिए, ब्लैक कॉफी पीने के फायदे दिमाग के लिए कारगर हैं।

      पेट के लिए

ब्लैक कॉफी के फायदे पेट के लिए भी हो सकते हैं। कई लोगों का मानना है कि कॉफी में एसिडिक प्रभाव होता है, जो शरीर के विषैले अपशिष्ट पदार्थ को मल के साथ बाहर निकालने का काम कर सकता है। इसलिए, ब्लैक कॉफी का सेवन आपके पेट के लिए फायदेमंद हो सकता है। यहां हम स्पष्ट कर दें कि इस विषय में अभी कोई वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है, इसलिए पेट के संबंध में कॉफी पीने के बारे में सोच रहे हैं, तो पहले डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

      दिल के लिए

ब्लैक कॉफी के फायदे में से एक स्वस्थ्य हृदय भी शामिल है। इसके नियमित उपयोग से कोरोनरी हृदय रोग और दिल के दौरे को कम किया जा सकता है। साथ ही यह कई तरह के हृदय रोग से भी छुटकारा दिलाने का काम करता है। इसके सेवन से ग्लूकोज मेटाबॉलिज्म कोलेस्ट्रोल संतुलित होता है।

      लीवर के लिए

एक रिसर्च में पाया गया है कि कॉफी लीवर के लिए भी फायदेमंद हो सकती है। कॉफी में पॉलीफेनोल, कैफीन और डिटेनपीनोइड होते हैं, जो लीवर को ठीक से काम करने में मदद कर सकते हैं। साथ ही कॉफी के सेवन से शरीर में फैटी एसिड हेपेटाइटिस (लीवर में सूजन) में कमी आती है।

      कैंसर के लिए

कैंसर एक ऐसी बीमारी है जो जानलेवा साबित हो सकती है। इसलिए, हर कोई इससे दूर रहना चाहता है। कॉफी का उपयोग कई तरह के कैंसर को दूर रखने का काम कर सकता है। इसमें एंटीकैंसर गुण पाए जाते हैं, जो विभिन्न तरह के कैंसर से आपकी रक्षा कर सकते हैं।

      पार्किंसंस के लिए

पार्किंसंस ऐसा रोग है, जिसमें हाथ-पैर कांपने लगते हैं। कॉफी में पाए जाने वाले सक्रिय यौगिक लीवोडोपा को बढ़ाने में मदद कर सकता है। इससे पार्किंसंस रोग के निवारण करने का काम कर सकता है।

      डिप्रेशन के लिए

जब भी कोई डिप्रेशन में होता है, तो वह कॉफी पीने के बारे में सोचता है, क्योंकि कॉफी डिप्रेशन को दूर करने का काम कर सकता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जिसका सकारात्मक असर दिमाग पर होता है। इससे अवसाद को कम किया जा सकता है।

      थकान के लिए

ब्लैक कॉफी के फायदे में से एक थकान को दूर करना भी है। कॉफी में एमिनोब्यूटिरिक एसिड (जीएबीए) पाया जाता है, जो तनाव और थकान से राहत दिलाने का काम कर सकता है।

      शारीरिक क्षमता के लिए

कई कसरत करने वाले लोग शरीर के स्टैमिना को बढ़ाने के लिए कैफीन का उपयोग करते हैं। वहीं, कॉफी में कैफीन की अच्छी मात्रा पाई जाती है। इसलिए, ऐसा कहा जा सकता है कि कॉफी के सेवन से शरीर की ऊर्जा को बढ़ाने में मदद मिल सकता है।

ब्लैक कॉफी का उपयोग

कैसे करें सेवन

      कॉफी पाउडर को गर्म पानी या दूध में मिलाकर पिया जा सकता है।

      कॉफी से चॉकलेट बनाकर खाई जा सकती है।

      केक में कॉफी पाउडर मिलाकर सेवन किया जा सकता है।

ब्लैक कॉफी के नुकसान

कॉफी में कैफीन अधिक मात्रा अधिक होती है। अगर इसे अधिक मात्रा में लिया जाए, तो निम्न प्रकार के दुष्प्रभाव हो सकते हैं:

      दिल की धड़कन तेज हो सकती है।

      चिंता का कारण बन सकती है।

      नींद में कमी सकती है

      उल्टी होने की समस्या हो सकती है।

      बेचैनी बढ़ सकती है।

      बार-बार पेशाब आने की समस्या हो सकती है।

इन बातों का रखें ध्यान:-

      सबसे बड़ी बात बच्चों और अधिक उम्र के बुजुर्गों को इसका सेवन कभी भी करने दें कैफीन का सेवन इन दोनों तबकों के लिए किसी भी दृष्टि से सही नहीं है

      कॉफ़ी का कभी भी खाली पेट सेवन करें, साथ ही मुछ कुछ साथ में नमकीन बिस्किट जैसा लें

      कॉफ़ी में कैफीन और एसिड होता है जिसके अधिक सेवन के कारण पेट की गड़बड़ियां या पाचन संबंधी समस्याएँ हो सकतीं हैं, साथ ही इसके अत्यधिक सेवन से हाई लेवल ऑफ़ स्ट्रेस हारमोन रिलीज़ होते हैं जो आपकी एंग्जायटी या तनाव दे सकते हैं इसलिए इनका सीमित मात्रा में सेवन करें

      वैसे तो इसके लिए कोई निर्धारित समय नहीं है, लेकिन इसे सुबह और शाम को पीना ही ज्यादा बेहतर होता है।

विनीता झा

About The Author

Post Comment

Comment List

अंतर्राष्ट्रीय

तालिबान ने ये ट्रक इस्लामाबाद के रास्ते भारत भेज दिया, जानकारी पाते ही पकिस्तान में मची खलबली  तालिबान ने ये ट्रक इस्लामाबाद के रास्ते भारत भेज दिया, जानकारी पाते ही पकिस्तान में मची खलबली 
International Desk एक तरफ भारत का डंका पश्चिम से लेकर अमेरिका तक बज रहा। दूसरी तरफ पाकिस्तान को भारत ने...

Online Channel

साहित्य ज्योतिष