उप जिला अधिकारी के आदेशों का लेखपाल ने किया खुलेआम उल्लंघन

उप जिला अधिकारी के आदेशों का लेखपाल ने किया खुलेआम उल्लंघन

शाहजहांपुर। तहसील पुवायां के विकासखंड खुटार के गांव हररायपुर वर्क अलीगंज निवासी सायरा सहित अन्य ग्रामीणों ने जिला अधिकारी को प्रार्थना पत्र देते हुए क्षेत्रीय लेखपाल द्वारा भू माफियाओं को संरक्षण देकर अवैध रूप से फसल कटवाने का आरोप लगाया है उन्होंने बताया क्षेत्रीयलेखपाल अशोक कुमार सिद्धार्थ द्वारा पद का दुरुपयोग कर शासन के साथ छल प्रपंच कर उच्च अधिकारियों के आदेशों की अवहेलना करके भू माफियाओं से सांठगांठ कर मोटी रकम देकर सरकारी नवीन पति की जमीन पर खड़ी गन्ने की फसल को चोरी से कटवा कर बिक्री कराने एवं भू माफियाओं को संरक्षण देकर पुनः गेहूं की खड़ी फसल कटवाने का प्रयास किया जा रहा है। 

पीड़िता सायरा ने प्रार्थना पत्र देते हुए बताया गांव हररायपुर वर्क अलीगंज में नवीन परती की जमीन पर गांव के भू माफियाओं द्वारा अवैध रूप से कब्जा करके फसल बोई गई है उक्त जमीन पर गन्ने की फसल तथा गेहूं की फसल खड़ी थी पीड़िता ने जमीन पर अवैध कब्जा हटवाने एवं अवैध तरीके से बोई गई फसल की नीलामी कराकर प्राप्त रुपयों को सरकारी कोष में जमा कराए जाने हेतु जिला अधिकारी शाहजहांपुर एवं उप जिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र देकर अनुरोध किया गया था।

परंतु अवैध कब्जेदारो द्वारा  जबरन चोरी करके गन्ने की फसल काटने का प्रयास किया गया जिसके बाद जिलाधिकारी ने फसल की अवैध तरीके से काटे जाने पर रोक लगाकर फसल की नीलामी कराए जाने के आदेश दिए थे परंतु क्षेत्रीय लेखपाल अशोक कुमार सिद्धार्थ ने पद का दुरुपयोग कर शासन के साथ छल प्रपंच कर कूट रचना कर उच्च अधिकारियों के आदेशों की अवहेलना करके दबंग भू माफियाओं से सांठगांठ कर मोटी रकम लेकर सरकारी नवीन परती की जमीन पर खड़ी गन्ने की फसल को चोरी से कटवा कर बिक्री करा दी गई।

जबकि उपरोक्त अवैध कब्जे तारों के खिलाफ थाना खुटार में मुकदमा दर्ज है पीड़िता ने क्षेत्रीय लेखपाल के विरुद्ध कार्रवाई किए जाने एवं भू माफियाओं से राजस्व वसूली की जाए तथा जनहित में अवैध कब्जा मुक्त कराए जाने के आदेश पारित किए जाएं।

 

 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel