जिला अधिकारी की अध्यक्षता में किसान दिवस का किया गया आयोजन 

जिला अधिकारी की अध्यक्षता में किसान दिवस का किया गया आयोजन 

स्वतंत्र प्रभात-
 
अलावल देवरिया/गोंडा। माह के तीसरे बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी डॉ. उज्ज्वल कुमार की अध्यक्षता में किसान दिवस की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में किसानों द्वारा कई समस्याओं एवं सुझावों को रखा गया। जिलाधिकारी ने किसानों की समस्याओं के निस्तारण के संबंध में संबंधित अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि किसानों की सभी समस्याओं का निराकरण बिना किसी विलंब के किया जाए।
 
बैठक में किसानों द्वारा खाद, बीज, सिंचाई, केसीसी, ऋण आदि को लेकर अपनी समस्याएं जिलाधिकारी के समक्ष रखी गई। जिस पर जिलाधिकारी ने उप कृषि निदेशक व अन्य सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह किसानों की समस्याओं का जल्द से जल्द निस्तारण करें। कृषि विभाग, नाबार्ड व अन्य विभाग के द्वारा किसानों के कल्याण के लिए चलाई जा रही योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई।
 
इस मौके पर जिलाधिकारी ने छुट्टा पशुओं की समस्याओं के बारे में कहा कि प्रशासन द्वारा छुट्टा पशुओं के आश्रय हेतु व्यवस्था की जा रही है परंतु किसानों की सहायता के बिना की यह कार्य असंभव है। इसलिए सभी किसान इसमें प्रशासन की मदद करें। जिलाधिकारी ने कहा कि यह समस्या हम सबके बीच से ही उत्पन्न हुई है। अतः इसका समाधान भी हम सबको मिलकर ही ढूंढना होगा।
 
किसान भाई पशुओं को खुला न छोड़े। साथ ही उन्होंने कहा कई लोग छुट्टा पशुओं को स्कूल में छोड़ देते है जिससे बच्चों की पढ़ाई बाधित होती है। इस तरह के अराजक काम में दोषी पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की कार्रवाई की जाएगी। उनके द्वारा किसानों से अपनी फसलों का बीमा कराने, किसान सम्मान निधि योजना से जुड़े खाते की ईकेवाईसी कराने की बात कही गई।
 
अंत में जिलाधिकारी ने सभी किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रत्येक माह के तीसरे बुधवार को किसान दिवस की इस बैठक का आयोजन निरंतर होता रहेगा। प्रशासन पूरी तरह से किसानों की समस्याओं को लेकर सजग है और निस्तारण के लिये निरंतर प्रयास कर रहा है।
 
किसान बंधु इस बैठक में अपनी समस्या लेकर आते हैं तो उनका सम्बन्धित अधिकारियों द्वारा उचित निस्तारण कराया जाएगा। इसके अलावा भी किसान बंधु अन्य दिनों में कार्यालय में संपर्क कर समस्या का समाधान करा सकते हैं। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी एम अरून्मौली, उप निदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी, एसडीईओ कृषि, सिंचाई विभाग, नलकूप विभाग, डीडी नाबार्ड, प्रभारी एलडीएम, नहर विभाग, सहित अन्य अधिकारी व किसान बन्धु उपस्थित रहे।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने दी गौतम नवलखा को जमानत- '4 साल में भी आरोप तय नहीं'। सुप्रीम कोर्ट ने दी गौतम नवलखा को जमानत- '4 साल में भी आरोप तय नहीं'।
स्वंतत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को एल्गार परिषद-माओवादी संबंध मामले में मानवाधिकार कार्यकर्ता गौतम नवलखा को जमानत दे...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel