कुशीनगर में शिक्षक के साथ बदसुलूकी और सरकारी अभिलेख फाड़ने का लगा आरोप

वैवाहिक समारोह के अनुमति दिलाने की कर रहे थे मांग

कुशीनगर में शिक्षक के साथ बदसुलूकी और सरकारी अभिलेख फाड़ने का लगा आरोप

मारपीट कर विद्यालय के अभिलेख उठा ले जाने का आरोप

ऑनलाइन न्यूज चैनल स्वतंत्र प्रभात

राघवेंद्र मल्ल,पडरौना, कुशीनगर । सदर ब्लाक स्थित प्राथमिक विद्यालय बंजारा पट्टी दक्षिणी परिसर में मनबढ़ों द्वारा प्रधानाध्यापक के साथ बदसलूकी करने व िव विद्यालयीय अभिलेख छीन ले जाने का मामला प्रकाश में आया है। शिक्षक संगठन के पदाधिकारियों ने बीएसए को ज्ञापन सौंप मनबढ़ों के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई किये जाने की मांग की है। अन्यथा आंदोलन की चेतावनी दी है।

आज मंगलवार को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को सौंपे ज्ञापन में उत्तर प्रदेशीय जूनियर हाईस्कूल पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ के पाधिकारियों ने लिखा है कि विभागीय स्तर पर विद्यालय परिसर को वैवाहिक समारोह या अन्य किसी भी आयोजन के लिए अनुमति देने का प्रावधान नहीं है। लिखा है कि सदर ब्लाक स्थित प्राथमिक विद्यालय बंजारा पट्टी दक्षिणी परिसर में श्रीराम यादव, सहायक अध्यापक बतौर प्रभारी प्रधानाध्यापक कार्यरत है। तीन फरवरी को गोविन्द तिवारी पुत्र मदन तिवारी, उज्जवल तिवारी पुत्र गोविन्द तिवारी, ग्राम बंजारा पट्टी दक्षिणी ( साढ़ी खुर्द), थाना- रविन्द्रनगर, के साथ कुछ लोग विद्यालय में आये और विद्यालय परिसर को शादी में प्रयोग करने के लिए अध्यापक पर अनुचित दबाव बनाने लगे। विभागीय आदेश कराकर देने के लिए कहने पर अध्यापक के साथ बदतमीजी पर उतर गये और उल्टा सीधा कहते हुए मारने की धमकी देने लगे। इस दौरान प्राथमिक विद्यालय बाजूपट्टी क्षेत्र- पडरौना के सहायक अध्यापक राजन कुमार शुक्ल मौके पर उपस्थित होकर बीच-बचाव किये। पदाधिकारियों ने आरोप लगाया है कि उपरोक्त सभी लोग गोलबंद होकर 6 फरवरी को दोबारा आये और विद्यालय की चाभी छीनने लगे। मना करने पर धक्का-मुक्की करने लगे। अध्यापक द्वारा विडियो बनाने पर उनका मोबाइल छीन लिये और विद्यालय का अभिलेख भी ले जाते हुए मारने के लिए दौड़ाये तथा स्कूल आने पर जान से मारने की धमकी देकर गये। पदाधिकारियों ने कहा अध्यापक ने स्कूल से भाग कर किसी तरह अपनी जान बचाया। रवींद्र नगर चैकी पर इस बावत तहरीर देने के बावजूद आरोपियों ने सोमवार कोे शादी के लिए विद्यालय का जबरन उपयोग किया । ऐसे में विद्यालय जाने पर अध्यापक साथ कोई अनहोनी घटना हो सकती है। शिक्षक पदाधिकारियों ने कहा कि इस संदर्भ में आवश्यक कार्रवाई होनी चाहिए। जिससे विद्यालय पुनः सुचारू रूप से चल सके। अन्यथा संगठन शिक्षक हित में धरना देने के लिए बाध्य होगा। ज्ञापन दौरान शिक्षक संघ के अध्यक्ष प्रवीण पांडेय, श्रीनिवास शर्मा प्रान्तीय संयुक्त मंत्री, ब्लाक मंत्री कुंजेश्वर सिंह आदि मौजूद रहे।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष