राजकीय सम्मान के साथ सेना जवान दिवेन्द्र दुबे को दी गई अंतिम विदाई

राजकीय सम्मान के साथ सेना जवान दिवेन्द्र दुबे को दी गई अंतिम विदाई

पनियहवां नारायणी नदी तट पर अंतिम संस्कार किया गया।


 स्वतंत्र प्रभात 
 

खड्डा,कुशीनगर


नौरंगिया थाना क्षेत्र के सरपतही निवासी 33 वर्षीय सेना के जवान दिवेन्द्र दुबे का शव गांव पहुंचते ही गांव में मातम फैल गया। उनका राजकीय सम्मान के साथ हनुमानगंज थाना क्षेत्र के पनियहवां नारायणी नदी तट पर अंतिम संस्कार किया गया।


इस मौके पर उप जिला अधिकारी की मौजूदगी में पुलिसकर्मियों ने सलामी देकर अंतिम विदाई दी। उनको मुखाग्नि उनके बड़े भाई ने दिया।

बताते चलें कि सरपतही निवासी बृजभान दुबे के छोटे पुत्र दिवेन्द्र दुबे सेना जवान के पद पर अरुणाचल प्रदेश में तैनात थे। बीते सोमवार की देर शाम परिजनों को अचानक उनकी मौत की खबर मिली मौत की खबर मिलते ही पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई। 

 सेना के जवान दिवेन्द्र की पत्नी व दो मासूम बच्चो का रो-रो कर बुरा हाल बना हुआ है।जो अभी तक वह सदमे से उबर नहीं सके है। 4 वर्षीय पुत्र लाली व 3 साल की पुत्री दिशा जिनके सिर से पिता का छाया सदा के लिए मिट गया।अपने सुहाग के लिए सिर पटक रही पत्नी व पापा को ढूढ़ रहे बच्चो की करुंक्रन्दन भरी दर्द देख सबकी आंखे फफक जा रही थी।

इस मौके पर सांसद विजय कुमार कांग्रेसी नेता राज कुमार सिंह दुबे, उप जिला अधिकारी खड्डा अरविंद कुमार, थाना अध्यक्ष खड्डा धनवीर सिंह, थानाध्यक्ष हनुमानगंज पंकज गुप्ता सहित सरपतही गांव से ग्रामीणों की हुजूम एवं क्षेत्र के तमाम गणमान्य लोग देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले शिवेंद्र के अंतिम संस्कार यात्रा में शामिल हुए।
 

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel