उन्नाव में बारिश से फिर हरे हो गए सड़कों के जख्म

उन्नाव में बारिश से फिर हरे हो गए सड़कों के जख्म

अधिक लंबी सड़क को गड्ढा मुक्त करने के लिए शासन से बजट मांगा था।


स्वतंत्र प्रभात


 उन्नाव। बारिश ने पीडब्ल्यूडी के गड्ढा मुक्ति अभियान की पोल खोल दी है। करोड़ों खर्च कर सड़कों के भरे गए गड्ढे बारिश से उधड़ने लगे हैं। गड्ढों में बारिश का पानी भर गया है। इससे आवागमन एक बार फिर मुश्किल होने लगा है। मानसून का मौसम खत्म होते ही पीडब्ल्यूडी विभाग ने एक हजार किलोमीटर से अधिक लंबी सड़क को गड्ढा मुक्त करने के लिए शासन से बजट मांगा था।

 शासन ने चार करोड़ रुपये स्वीकृत किए थे। साथ ही 15 नवंबर से पहले सभी सड़कों को गड्ढामुक्त करने के निर्देश दिए थे। जिले में 15 सितंबर से सड़कों को गड्ढामुक्त करने का अभियान शुरू हुआ था। विभाग के अनुसार जिले में 1182 किमी सड़क के गड्ढे भरे जाने थे। अब तक तीन सौ किमी सड़क गड्ढामुक्त की जा चुकी है जबकि शेष भाग पर काम चल रहा है। पीडब्ल्यूडी द्वारा सड़कों के गड्ढों को भरने में गुणवत्ता का ख्याल नहीं रखा गया।


 इससे पिछले दिनों हुई बारिश से सड़कों पर लगाए गए पैबंद उधड़ गए हैं।गिट्टी व डामर हटने से सड़कें पहले की तरह गड्ढायुक्त हो गई हैं। यह हाल गांव के साथ साथ शहर की सड़कों का भी है। प्रांतीय खंड अधिशासी अभियंता हरदयाल अहिरवार ने बताया कि बारिश की वजह से दो दिन अभियान प्रभावित हुआ। बारिश की वजह से जहां दोबारा गड्ढे हुए हैं उन्हें भरवाया जाएगा।
 

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती? सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से पूछा कि कुल पड़े वोटों की जानकारी 48 घंटे के भीतर वेबसाइट पर क्यों नहीं डाली जा सकती?
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को उस याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिये एक सप्ताह का समय...

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel