कोविड संकट को लेकर यूरोपीय संघ व चीन के बीच तनाव

कोविड संकट को लेकर यूरोपीय संघ व चीन के बीच तनाव

स्वतंत्र प्रभात।

कोविड-19 संकट को लेकर यूरोपीय संघ (EU) एवं चीन के बीच राजनीतिक गतिरोध मंगलवार को और बढ़ गया। यूरोपीय संघ के कुछ देशों ने यात्रा पाबंदी लगाने की शुरुआत की है जिसका चीन ने जबर्दस्त विरोध किया है। चीन सरकार के प्रवक्ता माओ निंग ने यह कहते हुए टीकों समेत विभिन्न मदद की यूरोपीय संघ की पेशकश खारिज कर दी कि स्थिति ‘नियंत्रण में है' और दवाइयां ‘पर्याप्त मात्रा' में हैं। सत्ताईस देशों का समूह यूरोपीय संघ चीन से आने वाले यात्रियों पर कुछ बंदिशें लगाने की ओर बढ़ रहा है।
इस पर माओ ने कहा, ‘‘ राजनीतिक मकसद के लिए कोविड उपायों को अपने हिसाब से रखने की कोशिश का हम दृढतापूर्वक विरोध करते हैं और हम जवाब के सिद्धांत पर जवाबी कदम उठायेंगे।'' उसके बाद भी, ऐसा लगता है कि यूरोपीय संघ कुछ संयुक्त कार्रवाई करने पर तुला है ताकि चीन से आने वाले यात्रियों से इस महाद्वीप में वायरस के किसी नए स्वरूप से संक्रमण नहीं फैले। यूरोपीय संघ की अध्यक्ष संभाल रहे स्वीडन ने एक बयान में चेतावनी दी, ‘‘ चीन से आने वाले यात्रियों को ‘शार्ट नोटिस' पर लिए जा रहे निर्णयों के लिए तैयार रहना चाहिए।'' 

 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel

साहित्य ज्योतिष