पीलीभीत: कुर्की के खिलाफ जिलाधिकारी से मिलीं महिलाएं और बच्चे

पीलीभीत: कुर्की के खिलाफ जिलाधिकारी से मिलीं महिलाएं और बच्चे

स्वतंत्र प्रभात 
 
पीलीभीत। कुर्की की कार्रवाई पर ढोल पीटने वाली पुलिस अगले ही दिन आरोपों से घिर गई है। पुलिस ने ड्रग माफिया की संपत्ति को कुर्क करने के फेर में आरोपी के पिता की पैतृक संपत्ति पर भी ताले लगा दिये। इसके बाद बेघर हुईं महिलाएं और बच्चे अगले दिन डीएम के सामने पेश हुए है और पुलिस कार्रवाई के खिलाफ प्रार्थना पत्र दिया हैं।
पैतृक सम्पित्त पर हुई कार्रवाई से सड़क पर आ गए बुर्जुग और बच्चे
 
थाना गजरौला क्षेत्र के गांव पिपरिया भजा में प्रभारी निरीक्षक आशुतोष रघुवंशी की कार्रवाई के चलते ड्रग माफिया जसवीर सिंह की संपत्ति को कुर्क किया जाना था। लेकिन, कुर्की को बड़ी कार्रवाई दर्शाने में उतावली हुई पुलिस ने जसवीर सिंह के दो अन्य भाइयों की संपत्ति को भी कुर्क कर दिया। कार्रवाई के अगले दिन जसवीर सिंह के भाई लखवीर सिंह पुत्र मेजर सिंह परिजनों के साथ जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे और पुलिस कार्रवाई की हकीकत बयां की। उन्होंने बताया कि करीब 17 वर्षों से पिता मेजर सिंह ने जसवीर सिंह, लखवीर सिंह और पलविंदर सिंह को अलग करते हुए संपत्ति का बंटवारा कर दिया।
महिलाओं को सर छुपाने के लिए पुलिस ने नहीं छोड़ा कोई ठिकाना
 
मेजर सिंह का एक बेटा पलविंदर सिंह विदेश में है और पुलिस कार्रवाई में उसकी संपत्ति को भी ताले लगाए गए हैं। जिला अधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार को दिए गए पुलिस के खिलाफ शिकायती पत्र में स्पष्ट कहा गया है कि जसवीर सिंह से परिवार के अन्य लोगों का किसी प्रकार से संबंध नहीं है। इसके बावजूद पुलिस ने पलविंदर सिंह के मकान और संपत्ति को गलत तरीके से कुर्क किया है। पुलिस कार्रवाई के बाद परिवार में रहने वाले बुर्जुग महिला और बच्चे काफी परेशान हैं। लखवीर सिंह ने न्याय की गुहार लगाते हुए जिलाधिकारी से मिले 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel