अटल बिहारी बाजपेई को जन्मदिन पर किया गया याद

ठूठीबारी, महराजगंज। भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई का जन्म 25 दिसम्बर को मध्य प्रदेश के ग्वालियर में हुआ था ब्रह्मण कुल में पैदा होने के कारण उन्हें लोग पंडित जी कह कर संबोधित करने लगे। पढाई के साथ उन्होंने कविता भी लिखना शुरु किया उनकी कविताएं मन को गहराई तक छू जाती है।

ठूठीबारी, महराजगंज। भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई का जन्म 25 दिसम्बर को मध्य प्रदेश के ग्वालियर में हुआ था ब्रह्मण कुल में पैदा होने के कारण उन्हें लोग पंडित जी कह कर संबोधित करने लगे। पढाई के साथ उन्होंने कविता भी लिखना शुरु किया उनकी कविताएं मन को गहराई तक छू जाती है। उनकी कविता रार नहीं ठानूंगा हार नहीं मानूंगा काल के कपाल पर लिखता ही जाता हूं गीत नया गाता हूं जो बहुत ही प्रसिद्ध है।

उक्त बातें बतौर मुख्यातिथि पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा युवा मोर्चा के दुर्गा प्रसाद गुप्त ने ठूठीबारी के रेनबसेरा में आयोजित कार्यक्रम में किसानों को संबोधित करते हुए कहा। दुर्गा प्रसाद गुप्त ने बताया कि पंडित अटल बिहारी बाजपेई देश के सबसे प्रभावशाली नेता रहे।वह देश के विदेश मंत्री व भारत के प्रधानमंत्री पद को सुशोभित किया।उन्होंने गाव के गरीबों के बारे में सोचा और अन्तोदय राशन कार्ड, बीपीएल कार्ड,प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना आदि महत्वपूर्ण काम देश के लिए किया। प्रधानमंत्री मोदी ने देश के किसानों के साथ वर्चुअल सभा को सम्बोधित भी किया।

प्रधान प्रतिनिधि राजेश सिंह ने अटल जी के जीवन पर प्रकाश डाला। भाजपा के शिवधाम इटहिया मंडल के अध्यक्ष गौतम चौधरी ने संबोधन के साथ कार्यक्रम का समापन किया। कार्यक्रम का प्रारंभ पंडित अटल बिहारी बाजपेई जी के चित्र पर माल्यार्पण कर किया गया। कार्यक्रम का संचालन मंडल के उपाध्यक्ष जितेंद्र पाण्डेय ने किया।

कार्यक्रम में मंडल महामंत्री राजेश सहानी,सेक्टर प्रमुख सचिंद्र सिंह,लखीचंद जायसवाल,राजेश भारतीय, धर्मेंद्र जायसवाल,श्रवण कुमार ,जगदीश कुशवाहा,मन्नू ,नरेंद्र कुमार ,वीरेंद्र , मुक्तिनाथ गुप्ता,आर पी चौधरी, मदनपाल यादव,रेंगई चौधरी, संत कुशवाहा के साथ दर्जनों क्षेत्र के किसान मौजूद रहे। सभी ने कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी जी सभा का लाईव टीवी पर देखा।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel